संवाद सहयोगी, लैंसडौन : द्वारीखाल प्रखंड के ग्राम जसपुर में होम क्वारंटाइन में रह रहे एक युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। युवक स्वजनों सहित हरिद्वार से घर वापस लौटा था। पांच दिन पंचायत क्वारंटाइन सेंटर में रहने के बाद बुधवार को होम क्वारंटाइन हुआ था।

ग्राम जसपुर निवासी संदीप कुमार

(31 वर्ष) लॉकडाउन के चलते 21 मई को परिवार के साथ हरिद्वार से वापस लौटा। जिला प्रशासन की ओर से जारी नियमों के अनुरूप ग्राम प्रधान दीपक कुमार ने संदीप को परिवार सहित गांव के बाहर प्राथमिक विद्यालय में बनाए गए क्वारंटाइन सेंटर में भेजा। इस बीच क्वारंटाइन सेंटर में अन्य प्रवासियों के पहुंचने के कारण 27 मई को संदीप कुमार को परिवार सहित होम क्वारंटाइन कर दिया गया। ग्राम प्रधान दीपक कुमार ने बताया कि गुरुवार तड़के करीब ढाई बजे संदीप घर से बाहर निकल गया व काफी देर तक वापस नहीं लौटा।

सुबह परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की तो संदीप का शव गांव के बाहर पेड़ पर लटका मिला। सूचना मिलने के बाद राजस्व पुलिस की टीम मौके पर पहुंची। बाद में स्वास्थ्य विभाग की टीम मौके पर पहुंची और शव को पेड़ से उतारा। पूरी सुरक्षा के साथ शव का पंचायतनामा भरा गया पोस्टमार्टम के लिए शव को कोटद्वार भेज दिया गया। एसडीएम अपर्णा ढौंडियाल ने बताया कि मृतक के कोरोना जांच सैंपल लेने के बाद पोस्टमार्टम किया जाएगा। इधर, ग्राम प्रधान दीपक कुमार ने बताया कि संदीप मानसिक रूप से काफी परेशान चल रहा था, जिस कारण चिकित्सकों की अनुमति से ही उसे 27 मई को होम क्वारंटाइन किया गया था।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस