संवाद सहयोगी, कोटद्वार: बदहाल पड़े भाबर क्षेत्र के मोटाढाक स्थित मिनी स्टेडियम की सुध लेने के लिए पार्षदों ने शिक्षा मंत्री को ज्ञापन दिया। उन्होंने कहा कि देखरेख के अभाव में स्टेडियम असामाजिक तत्वों का अड्डा बन गया है। स्टेडियम की मरम्मत के लिए कई बार आला अधिकारियों को अवगत करवा चुके हैं, लेकिन आज तक इस ओर ध्यान नहीं दिया गया।

सोमवार को पार्षदों ने पनियाली गेस्ट हाउस में पहुंचे शिक्षामंत्री अरविद पांडेय को ज्ञापन दिया। पार्षदों ने बताया कि भाबर क्षेत्र के 15 वार्डों की आबादी पचास हजार से अधिक है। क्षेत्र की खेल प्रतिभाओं को निखारने के लिए वर्ष 2005-06 में सरकार ने मोटाढाक में मिनी स्टेडियम का निर्माण करवाया था, लेकिन निर्माण कार्य पूरा होने के बाद भी आज तक इसकी सुध नहीं ली गई।

हालत यह है कि स्टेडियम में बिजली व पानी की व्यवस्था तक नहीं की गई। देख-रेख के अभाव में स्टेडियम खंडहर में तब्दील होता जा रहा है। परिसर में पूरे दिन असामाजिक तत्वों का जमावड़ा लगा रहता है। भाबर क्षेत्र के युवाओं को खेल के क्षेत्र में बेहतर मंच मिल सकें इसके लिए स्टेडियम की मरम्मत करवाई जानी चाहिए। इस मौके पर पार्षद सौरभ नौटियाल, कमल नेगी, मनीष भट्ट, कुलदीप रावत मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस