संवाद सहयोगी, कोटद्वार : उत्तर प्रदेश की बिजनौर सीमा से कोटद्वार को जोड़ने वाला कौड़िया-दिल्ली फार्म मार्ग बदहाल स्थिति में है। मार्ग पर कहीं भी डामर नजर नहीं आ रहा। बड़े-बड़े गड्ढे वाहन चालकों की कमर तोड़ रहे हैं। आए दिन हो रहे हादसों के बाद भी जिम्मेदार विभाग मार्ग मरम्मत की सुध नहीं ले रहा। सबसे अधिक परेशानी दोपहिया वाहन चालकों को हो रही है।

कौड़िया-तिराहे से दिल्ली फार्म तक करीब दो किलोमीटर का मार्ग पूरी तरह खस्ताहाल हो चुका है। डामर की जगह मार्ग पर केवल मिट्टी व रेत ही नजर आ रहा है। दिल्ली फार्म निवासी सोहन लाल, अरविद सिंह ने बताया कि मार्ग की बदहाल स्थिति को एक वर्ष से अधिक का समय होने वाला है। मार्ग मरम्मत के लिए पूर्व में दिल्ली फार्म वासियों ने शासन-प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन भी किया था, लेकिन अब तक सिस्टम ने मार्ग मरम्मत की सुध नहीं ली। हल्की बारिश होने पर मार्ग में पूरा कीचड़ भर जाता है। ऐसे में व्यक्तियों का पैदल चलना भी मुश्किल हो जाता है। आरोप है कि रात के अंधेरे में मार्ग पर बने गड्ढे दिखाई नहीं देते, जिससे दुर्घटनाएं हो रही हैं। गुरुवार रात भी फाटक के समीप एक दोपहिया वाहन चालक अनियंत्रित होकर चोटिल हो गया था। सिस्टम की लापरवाही से लगता है कि उन्हें मार्ग पर किसी बड़े हादसे का इंतजार है।

खड़े रहते हैं भारी वाहन

कौड़िया से दिल्ली फार्म के बीच जगह-जगह सड़क किनारे भारी वाहन खड़े रहते हैं। ऐसे में अन्य वाहनों को निकलने के लिए पर्याप्त जगह नहीं मिल पाती। राहगीरों को भी बीच सड़क से होकर चलना पड़ता है। जिससे दुर्घटनाओं का अंदेशा बना रहता है। क्षेत्रवासियों का आरोप है कि वह भारी वाहनों को हटवाने के लिए कई बार पुलिस व परिवहन विभाग से शिकायत कर चुके हैं, लेकिन आज तक कोई भी अधिकारी या कर्मचारी मौके पर झांकने तक नहीं पहुंचा। सड़क की स्थिति के संबंध में जानकारी नहीं है। यदि सड़क बदहाल स्थिति में है तो उसकी जल्द ही मरम्मत करवा दी जाएगी।

-डीपी सिंह, अधिशासी अभियंता, लोनिवि दुगड्डा

संदेश : 28 कोटपी 1

कोटद्वार नगर निगम के अंतर्गत बदहाल पड़ा दिल्ली फार्म-कौड़िया मोटर मार्ग

Edited By: Jagran