जागरण संवाददाता, हल्द्वानी: शराब की दुकानें बंद होने से शहर से लेकर गाव तक कच्ची शराब की तस्करी होने लगी है। गौलापार में लगातार बढ़ रही शराब की तस्करी के खिलाफ क्षेत्र के युवाओं ने लामबंद होकर मोर्चा खोल दिया। मंगलवार की शाम से लेकर बुधवार सुबह तक युवाओं ने गश्त कर तस्करों की धरपकड़ के प्रयास किए। रामबाग चौराहे के पास एक तस्कर कच्ची शराब का कट्टा छोड़कर तो प्रतापपुर के पास तस्कर बाइक छोड़कर फरार हो गए।

गौलापार क्षेत्र में इन दिनों गाव-गाव कच्ची शराब की तस्करी शुरू हो गयी है। जंगलों से सटे गावों के कई लोग बाइकों से कच्ची शराब सप्लाई कर रहे हैं। तस्करी बढ़ने से परेशान गौलापार के युवाओं ने खुद ही तस्करों को पकड़ने के लिए मुहिम शुरू कर दी है। जनप्रतिनिधियों व युवाओं ने मिलकर अब तस्करों को सबक सिखाने के लिए धरपकड़ शुरू कर दी। मंगलवार रात रामबाग चौराहे के पास युवाओं को शराब तस्कर दिख गया। युवाओं के पीछा करने पर तस्कर कच्ची शराब से भरा कट्टा छोड़कर फरार हो गया। कट्टे में 150 पाउच कच्ची शराब मिली। तस्करों की खोजबीन करते हुए बुधवार तड़के पाच बजे सीतापुर के पास दो बाइकों में तस्कर दिख गए। तस्कर प्रतापपुर जंगल में घुस गए। युवाओं को पीछा करते देख एक तस्कर बाइक छोड़कर जंगल में लापता हो गया, जबकि बाइक सवार दूसरा भी भागने में कामयाब रहा। बाइक में 30 पाउच कच्ची शराब बरामद हुई। उसे चोरगलिया पुलिस को सौंप दिया। तस्करों की धरपकड़ करने वाली टीम में समाजसेवी नीरज रैक्वाल, बीडीसी धर्मेंद्र रैक्वाल, महिपाल सिंह रैक्वाल, रोहित चोरसिया, प्रमोद सती, रवि व दीप भट्ट शामिल थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस