रामनगर, जेएनएन : पाटकोट के चोपड़ा गांव में केंपर वाहन पलटने से घायल हुए लोगों में से एक युवक की उपचार के दौरान मौत हो गई। शुक्रवार को रामनगर आ रही बोलेरो केंपर वाहन में 28 यात्री सवार थे। बांगाझाला के समीप वाहन ओवरलोड होने की वजह से सड़क पर पलट गया। वाहन में कई यात्री छत पर बैठे थे तो कई पीछे लटके हुए थे। हादसे के दौरान 25 यात्री घायल हो गए थे। गंभीर रूप से घायल लोगों में से पांच की हालत नाजुक बनी हुई थी। जिन्हें हायर सेंटर रेफ र कर दिया गया था। जबकि अन्य रामनगर चिकित्सालय में भर्ती थे। गंभीर रूप से घायल चोपड़ा निवासी जगदीश चंद्र पुत्र मोतीराम को मुरादाबाद के निजी हॉस्पिटल ले जाया गया था। शनिवार को जगदीश की उपचार के दौरान मौत हो गई। 

पांच सीटर बस में बैठे थे 28 लोग 

शुक्रवार को पाटकोट के चोपड़ा गांव से टैक्सी परमिट की बोलेरो केम्पर (यूके 19 टीए 0352) रामनगर आ रही थी। यात्रियों के मुताबिक, वाहन में चालक समेत 28 लोग सवार थे। रामनगर से आठ किलोमीटर पहले बागझाला के समीप ओवरलोडेड इस वाहन से चालक नियंत्रण खो बैठा और वाहन सड़क पर ही पलट गया। इससे उसमें सवार यात्री कोई सड़क पर गिरे तो कोई वाहन के नीचे दब गए। इससे चीख-पुकार मच गई। उधर से आ रहे लोगों ने वाहन में फंसे घायलों को निकाला। 108 एंबुलेंस व अन्य साधनों से घायलों को संयुक्त चिकित्सालय लाया गया। एक साथ कई घायलों के आने व दर्द से कराह रहे घायलों को देखकर चिकित्सालय में भी हड़कंप मच गया। सूचना मिलने पर तहसीलदार पूनम पंत, रजिस्ट्रार कानूनगो आरिफ हुसैन, कोतवाल रवि सैनी, एआरटीओ विमल पांडे भी चिकित्सालय पहुंच गए। उन्होंने यात्रियों से घटना की जानकारी ली। यात्रियों ने बताया कि वाहन का मालिक प्रेम राम है। आधे रास्ते के बाद वाहन को अनट्रेंड युवक चलाने लगा। वह काफी तेजी से ड्राइव रहा था। परिवहन विभाग के अधिकारी मामले की जांच कर रहे हैं। घटना के कई घंटे बीत जाने के बाद भी एआरटीओ व पुलिस वाहन चलाने वाले चालक के बारे में पता नहीं कर पाई। 

यह भी पढ़ें : पिथौरागढ़ से देहरादून के लिए शुरू हुई हवाई सेवा, नैनीसैनी पट्टी से नौ यात्रियों को लेकर उड़ा विमान

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड में छह साल में महज 21 हजार युवाओं को मिल सका रोजगार 

Posted By: Skand Shukla

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप