जागरण संवाददाता, हल्द्वानी: ऑरम द ग्लोबल स्कूल में शनिवार को साहित्य सम्मेलन 'संहिता' का आयोजन किया गया। जिसमें साहित्य जगत के प्रतिष्ठित लेखको और कवियों ने भाग लिया। विभिन्न क्रियाकलापों के माध्यम से अभिभावकों व बच्चों में साहित्य के प्रति रुचि जगाने की कोशिश की गई।

प्रसिद्ध इतिहासकार एवं पर्यावरणविद् डॉ. प्रो. अजय सिंह रावत ने साहित्य की विभिन्न विधाओं से रूबरू कराया। इसके अलावा अन्य क्षेत्रों से आए अतिथियों ने भी साहित्य के बारे में जानकारी दी। विद्यालय प्रबंधन की ओर से विभिन्न खेल प्रतियोगिताओं और गतिविधियों का आयोजन किया गया। पोस्टकार्ड डिजाइनिंग, विज्ञापन विज्ञान, दोहा, श्लोक गायन के माध्यम से बच्चों ने अपनी कला का प्रदर्शन किया। यहां आइएफएस संजीव चतुर्वेदी, रोहिणी विज, केविन मिशेल, स्कूल के प्रबंधक मणिपुष्पक जोशी, प्रधानाचार्या आशू पंत आदि मौजूद रहे।

:::::::::::::::

इन लोगों ने बढ़ाया आकर्षण

सम्मेलन में ग्यारह वर्षीय लेखक ध्रुव आदित्य तिवारी भी मौजूद रहे। ध्रुव को विश्व के सबसे कम उम्र का लेखक होने का गौरव प्राप्त है। उन्होंने केवल आठ साल की उम्र में 'द हाइडिंग' पुस्तक लिखी थी। इसके अलावा कंप्यूटर इंजीनियर वेनू जी जोशी भी मौजूद रहीं। उन्होंने पहली पुस्तक सीरीज 'द फॉरबिडन गाइड-द डाईक्रोनिकल्ज लिखी है। दो बार एडीटर चॉइस पुरस्कार विजेता प्रसिद्ध लेखक राजुल तिवारी भी कार्यक्रम में पहुंची। वे ऑथर प्राइड पब्लिशर (भारत) संस्था की प्रबंध संपादक हैं। राजुल को अपनी पुस्तक 'द स्टोरी आफ परमवीर चक्र-वॉर हीरोज ऑफ इंडिया' के लिए 2002 व 2004 में सम्मानित किया गया था। सेवानिवृत प्राध्यापक डॉ. लक्ष्मण सिंह बिष्ट बटरोही, अंशु दुआ, साहित्यकार लक्ष्मी खन्ना सुमन भी यहां मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस