संवाद सहयोगी, भीमताल : भीमताल की सबसे बड़ी ग्राम सभा अलचौना के ग्रामीणों को अब सिंचाई के लिए परेशान नहीं होना पड़ेगा। दरअसल मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार ने नलकूप खंड हल्द्वानी को गांव में सिंचाई का पानी पहुंचाने के लिए डीपीआर बनाने के निर्देश जारी किए हैं। वहीं विभागीय अधिकारियों ने एक बार पुन क्षेत्र का सर्वे कर रिपोर्ट तैयार करनी शुरू कर दी है। मालूम हो कि मुख्य विकास अधिकारी के अलचौना गांव में पहुंचने पर ग्रामीणों ने सिंचाई की व्यवस्था नहीं होने की शिकायत की थी। क्षेत्र की भौगोलिक स्थिति को देखते हुए सीडीओ ने नलकूप खंड हल्द्वानी को पानी पहुंचाने के निर्देश दिए हैं। इधर नल कूप खंड के सहायक अभियंता अर्चित रमन बताते हैं कि विभाग के द्वारा गांव में .5 क्यूसक पानी पहुंचने के लिये डीपीआर बनाई जा रही है। इसके अन्तर्गत एक पंप कलसा नदी में निर्मित किया जाएगा और उसी के माध्यम से लिफ्ट कर पानी अलचौना में पहुंचेगा। वहीं विभागीय अधिकारी बताते हैं कि पूर्व में प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के तहत डबल फेज की डीपीआर तैयार की गई थी, पर इस योजना के तहत दो पंप हाउस बनाने और उसमें दो ऑपरेटर रखने को लेकर खर्चा योजना की स्वीकृति में आड़े आ रहा था। अब सीडीओ के निर्देश पर दुबारा सर्वे कर सिंगल फेज की डीपीआर तैयार की जा रही है। विभाग इस डीपीआर को जिला योजना में रखेगा और स्वीकृति के बाद सिचाई नहर की योजना पर कार्य प्रारंभ करेगा। जहां पूर्व में डबल फेज की योजना में 1 करोड़ 52 लाख धन खर्च होने की डीपीआर बनी थी, वहीं अब सिंगल फेज की योजना में लगभग 1 करोड़ बीस लाख खर्च होने का अनुमान है। नलकूप खंड हल्द्वानी को सौंपा गया है कार्य

सीडीओ विनीत कुमार ने बताया कि ग्रामीणों के द्वारा सिंचाई की दिक्कत से अवगत कराया गया था। जिसके तहत नल कूप खंड हल्द्वानी को गांव में पानी पहुंचाने का कार्य सौंपा गया है। डीपीआर तैयार होने के बाद जिला योजना में उसको रखा जाएगा। और क्षेत्र में पानी पहुंचाया जाएगा शुरू हो गया है योजना पर कार्य

सहायक अभियंता नलकूप खंड हल्द्वानी अर्चित रमन ने बताया कि मुख्य विकास अधिकारी के निर्देशों के क्रम में विभाग ने इस योजना पर कार्य करना प्रारंभ कर दिया है। एक माह के भीतर पूरी डिटेल प्रोजेक्ट योजना तैयार कर ली जाएगी और जिला योजना में उसको रखा जाएगा।

Posted By: Jagran