जागरण संवाददाता, हल्द्वानी : उत्तराखंड मुक्त विश्वविद्यालय (यूओयू) डिजिटल शिक्षा के क्षेत्र में नित नए आयाम स्थापित कर रहा है। विभिन्न विषयों के पीडीएफ वर्जन तैयार करने के बाद अब विवि ने संस्कृत-ज्योतिष समेत 18 पाठ्यक्रमों को ई-लर्निंग पोर्टल में समाहित किया है। पोर्टल में यूओयू ने इन सभी पाठ्यक्रमों के वीडियो लेक्चर अपलोड किए हैं। यूओयू की इस कवायद से विवि से जुड़े 80 हजार विद्यार्थियों को फायदा होगा। इतना ही नहीं पोर्टल में दर्जनों अन्य विषयों के पीजी, सर्टिफिकेट और पीजी डिप्लोमा कोर्सेंज की लर्निंग मटीरियल अपलोड किया गया है।

चार श्रेणियों में मिलेगा लाभ

यूओयू की ओर से ई-लर्निंग पोर्टल में चार श्रेणियां बनाई हैं। पहली श्रेणी सेल्फ लर्निंग मटिरियल है। इस श्रेणी में 11 पाठ्यक्रम अपलोड किए गए हैं। दूसरी श्रेणी में ओपन एजुकेशन रिर्सोसेज है। इसमें 13 पाठ्यक्रमों का स्टडी मटीरियल है। तीसरी श्रेणी आनलाइन कोर्सेज की है। इसमें 18 पाठ्यक्रमों से संबंधित वीडियो लेक्चर अपलोड किए गए हैं। वहीं, अंतिम श्रेणी रिसर्च एंड इनोवेशन बनाई गई है।

पासवर्ड प्रोटेक्टेड रहेगी ई-लर्निंग सामग्री

यूओयू ने ई-लर्निंग पोर्टल में उपलब्ध कराई गई सभी शिक्षण सामग्री को पासवर्ड प्रोटेक्टेड बनाया है। विवि से जुड़े छात्र सभी श्रेणियों के स्टडी मटीरियल का निश्शुल्क लाभ उठा सकेंगे जबकि, बाहरी विश्वविद्यालयों, कालेजों का कोई छात्र या व्यक्ति इसका लाभ उठाना चाहेगा तो उसे यूओयू से सहमति लेनी होगी। पूरा कोर्स लेने के लिए फीस चुकानी होगी।

 

श्रेणीवार पाठ्यक्रमों के स्टडी मटीरियल

सेल्फ लर्निंग मटिरियल : कंप्यूटर साइंस एंड इंफारमेशन टेक्नोलाजी, सोशल साइंस, हेल्थ साइंस, मैनेजमेंट स्टडीज एंड कामर्स, टूरिज्म एंड होटल मैनेजमेंट, एजुकेशन, जर्नलिज्म, लाइब्रेरी एंड इंफारमेशन साइंसेज, लॉ, ह्यूमेनिटीज

 

ओपन एजुकेशन सिस्टम

कंप्यूटर साइंस एंड इंफारमेशन टेक्नोलाजी, सोशल साइंस, हेल्थ साइंस, मैनेजमेंट स्टडीज एंड कामर्स, टूरिज्म एंड होटल मैनेजमेंट, एजुकेशन, जर्नलिज्म, लाइब्रेरी एंड इंफारमेशन साइंसेज, लॉ, ह्यूमेनिटीज, एग्रीकल्चर, वोकेशनल स्टडीज

आनलाइन कोर्सेज : कंप्यूटर एप्लीकेशन, ई-गवर्नेंस एंड साइबर सिक्योरिटी, संस्कृत, ज्योतिष, एमसीए, बीसीए, पीजीडीसीए आदि

 हर विद्यार्थी को घर-घर तक पाठ्य सामग्री उपलब्ध कराने के उद्देश्य से ई-लर्निंग पोर्टल तैयार किया गया है। इसमें विभिन्न पाठ्यक्रमों की ई-लर्निंग सामग्री अपलोड की है। विवि से जुड़े छात्र इसका निश्शुल्क लाभ उठा सकेंगे जबकि, अन्य बाहरी छात्रों को इसके लिए परमिशन लेनी होगी।

प्रो. ओम प्रकाश सिंह नेगी, कुलपति उत्तराखंड मुक्त विश्वविद्यालय

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021