हल्द्वानी, शहबाज अहमद : तकनीकी के इस दौर में लोग समय बचाने के लिए ऑनलाइन शॉपिंग करना बेहतर समझते हैं। इससे जहां घर बैठे मनपंसद सामान मिल जाता है, वहीं कुछ पैसों की भी बचत हो जाती है।  इन दिनों त्योहारी सीजन में ऑनलाइन कंपनी बेहद आकर्षक ऑफर भी दे रही हैं। इससे कस्टमर इस तरफ ज्यादा आकर्षित हो रहे हैं। यही कारण है कि हर रोज एक नई कंपनी सामने आ रही है, जिनमें कई फर्जी कंपनियां भी होती हैं, जो किसी नामी कंपनियों के मिलते-जुलते नाम रखकर लोगों को ठग रही हैं। ऐसे में अगर आप ऑनलाइन शॉपिंग कर रहें है तो वेरीफाइड वेबसाइट से ही शॉपिंग करें।

ऑनलाइन शॉपिंग करते समय यह सावधानी बरतें

ऑनलाइन शॉपिंग करते समय सबसे पहले प्रोडक्ट के बारे में पूरी जानकारी कर लें। आप सर्च इंजन के साथ लोकल मार्केट से भी जानकारी ले सकते हैं।

प्रोडक्ट के संबंध में वेबसाइट पर दिए रिव्यू हमेशा सही नहीं होते हैं। रिव्यू के आधार पर प्रोडक्ट खरीदने से पहले उसकी जानकारी दूसरी साइट से भी जरूर जुटाएं। कोशिश करें कि पांच में 3.5 या 4 स्टार रेटिंग से ऊपर के सामान का ही ऑर्डर करें।

ये भी कोशिश करें कि पेमेंट सामान डिलीवर होने पर ही करें।

केस-1

काशीपुर निवासी मनोज ने बताया कि एक माह पहले ऑनलाइन वेबसाइट पर इलेक्ट्रॉनिक आइटम पर सेल लगी थी। उस बीच एक लैपटॉप ऑर्डर किया, जिसमें 75 प्रतिशत छूट मिल रही थी। उसका भुगतान ऑनलाइन ही कर दिया। फिर वेबसाइट पर जाकर ऑर्डर ट्रैक करना चाहा, तो वहां कोई विकल्प ही नहीं था और मेरे अकाउंट से पैसे भी कट गए थे।

केस-2

द्वाराहाट के विजय ने ऑनलाइन वेबसाइट से कपड़ों की खरीददारी की, जिसका पेमेंट ऑनलाइन ही कर दिया। ऑर्डर कंफर्म होने का मैसेज भी आया। एक माह बीत जाने के बाद भी कपड़ों की डिलीवरी नहीं हुई। संबंधित वेबसाइट पा जाकर चेक किया, तो पता चला कि ऐसी कोई वेबसाइट ही नहीं है।

क्‍या कहते हैं साइबर एक्‍सपर्ट

विकास सिंह बिष्ट, साइबर एक्सपर्ट ने बताया कि महंगे उत्पाद को सस्ता बिकता देख लोग लालच में आ जाते हैं और बगैर वेबसाइट की छानबीन किए ऑर्डर कर देते हैं। इससे लोग ठगी का शिकार हो जाते हैं। इसलिए केवल वेरीफाइड वेबसाइट से ही शॉपिंग करें। वेबसाइट पर अपने ऑर्डर ट्रैक भी करते रहे।

Posted By: Skand Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस