जागरण संवाददाता, रानीखेत (अल्मोड़ा): अस्सी के दौर में कांग्रेस से विधानसभा सदस्य फिर बसपा के टिकट पर आजमगढ़ से दो बार सांसद रहे बाहुबली नेताओं में शुमार अकबर अहमद डंपी जमीन के मसले पर सुर्खियों में आ गए हैं। आरोप है कि डंपी के लोगों ने ताड़ीखेत ब्लाक के सिवाल मटियाली गांव में बड़े पैमाने पर खरीदी गई जमीन के अलावा उन ग्रामीणों की भूमि पर अवैध कब्जा कर लिया है, जो बेची ही नहीं गई है। 

इससे पूर्व डंपी का नाम उत्तराखंड में जब उछला था वह लखनऊ में कनिका कपूर का कार्यक्रम अपने घर में कराया था और कोरोना फैला था। इसके तुरंत बाद बिना किसी रोकटोक व जांच के वह किच्छा अपने फार्म हाउस पहुंच गए थे।

तीन वर्ष पूर्व एसडीएम कार्यालय में मामला चलने के बाद अब मुख्यमंत्री व डीएम को ट्वीट किए जाने के बाद जमीन का जिन्न फिर बाहर आ गया है। जिलाधिकारी ने संयुक्त मजिस्ट्रेट को जांच के निर्देश दे दिए हैं। इधर, राजस्व उपनिरीक्षक से जल्द मौका मुआयना कर रिपोर्ट देने को कहा गया है। 

प्रशासन के अनुसार अकबर अहमद डंपी ने ताड़ीखेत ब्लाक के सिवाल मटियाली गांव में भी जमीन खरीदी है। ग्रामीणों के मुताबिक डंपी के लोगों ने घेरबाड़ कर दी है। इससे उन ग्रामीणों की जमीन भी कब्जे में कर ली गई है, जिसे बेचा ही नहीं गया। क्षेत्रवासियों ने बताया कि सिवालमटियाली गांव में जोत बिखरी हुई है। जमीन का बंटवारा भी ठीक से नहीं हुआ है। ऐसे में एकमुश्त जमीन पर घेरबाड़ से साफ है कि बड़े रकबे पर अवैध कब्जा कर लिया गया है। 

इस मसले पर अब चंद्रशेखर तिवारी नामक व्यक्ति ने सीएम पुष्कर सिंह धामी को ट्वीट कर आरोप लगाया है कि बाहुबली अकबर अहमद डंपी की ओर से जमीन पर अवैध कब्जा किया जा रहा है। गांव वाले विरोध भी कर रहे हैं। मुख्यमंत्री तक मामला पहुंचने के बाद डीएम वंदना सिंह ने जांच बैठा दी है। 

प्रशासनिक टीम पहुंची गांव 

संयुक्त मजिस्ट्रेट जयकिशन के निर्देश पर तहसीलदार मनीषा मारकोना ने बुधवार को प्रशासनिक टीम सिवाल मटियाली गांव में भेजी। कानूनगो हनीफ बेग के साथ मौके पर पहुंचे राजस्व उपनिरीक्षक कुमार सानू ने कहा कि खसरा खतौनी की जांच की जा रही है। 

विवाद नाप भूमि पर कब्जे को लेकर हुआ है। उन्होंने बताया कि डंपी ने अपनी जमीन पर तारबाड़ की है, लेकिन ग्रामीणों का कहना है कि उनकी नाप भूमि पर भी अवैध कब्जा कर लिया गया है।

तहसीलदार मनीषा के अनुसार जांच के बाद ही पता लग सकेगा कि डंपी ने वास्तविक रूप से कितनी भूमि खरीदी है। कितने क्षेत्रफल में अवैध कब्जा किया गया है। 

उत्तराखंड में जोड़ी है अच्छी-खासी जमीन

मेनका गांधी की अगुआई वाले संजय विचार मंच के संयोजक रहे अकबर अहमद डंपी की उत्तराखंड खासतौर पर कुमाऊं में अच्छी खासी जमीन है। किच्छा में फार्महाउस, बेतालघाट व रामगढ़ ब्लाक में भी डंपी ने बड़े पैमाने पर जमीन जोड़ी है। इधर, रानीखेत के सुदूर सिवाल मटियाली गांव में नापभूमि पर अवैध कब्जे का मामला गरमा गया है।

यह भी पढ़ें : कनिका संग पार्टी करने वाले पूर्व सांसद डंपी हुए कानून से ऊपर, अब भी घूम रहे खुलेआम

Edited By: Prashant Mishra