जागरण संवाददाता, हल्द्वानी : आवास विकास में मोबाइल फोन को लेकर शुक्रवार को ग्राहक व कारोबारी में विवाद के बाद बवाल खड़ा हो गया। कारोबारी ने फौजी ग्राहक व साले के साथ मारपीट कर दी। यही नहीं कारोबारी ने साथियों को बुलाकर फौजी के साले के सुभाषनगर स्थित घर पर धावा बोल दिया और महिलाओं से भी अभद्रता व मारपीट कर दी। इससे भड़के लोगों ने दुकान पर पथराव कर दिया। उग्र भीड़ देखकर कारोबारी व साथियों ने दुकान भीतर से बंद कर लिया। फौजी के साले की ओर से कोतवाली में तहरीर दी गई है।

काठगोदाम में रहने वाले पान सिंह सेना में लांसनायक हैं। उन्होंने करीब 11 माह पहले आवास विकास की एक दुकान मोबाइल फोन खरीदा था। पांच माह पहले उनके फोन का स्पीकर खराब हो गया। एक सप्ताह पूर्व वह छुट्टी पर घर आए। शुक्रवार को पान सिंह मोबाइल सही कराने सर्विस सेंटर गए तो काफी खर्च बताने के साथ ही मोबाइल पूर्व में रिपेयर होने की जानकारी मिली। इस पर पान सिंह ने सुभाषनगर निवासी साले मधुकर सिंह बनौला के साथ मोबाइल शॉप में जाकर दुकानदार वकार से आपत्ति जताई। इसको उनमें विवाद हो गया। वकार ने फोन कर अपने 10-15 साथियों को बुला लिया, जो सुभाषनगर में मधुकर के घर में घुस गए। आरोप है कि उन्होंने मधुकर के साथ ही परिजनों से हाथापायी व महिलाओं से अभद्रता कर दी। मधुकर ने महिलाओं के जेवर लूटने का भी आरोप लगाया है।

वहीं सामाजिक छवि के मधुकर से मारपीट का पता लगते ही आवास विकास में लोगों की भीड़ जुट गई। आक्रोशित भीड़ ने मोबाइल की दुकान में पथराव कर दिया। वकार व साथियों ने दुकान का शटर भीतर से बंद कर लिया। बवाल की सूचना पर भोटियापड़ाव चौकी प्रभारी पीएस नगरकोटी दो जवानों को लेकर आवास विकास पहुंचे। उनसे मामला नहीं संभला तो कोतवाल संजय कुमार, एसएसआइ कश्मीर सिंह फोर्स के साथ पहुंचे और दुकान में बंद लोगों को भीड़ से बचाने के साथ हिरासत में लेकर कोतवाली लाए।

==========

गुस्साई भीड़ ने पुलिस की सामने कारोबारी के साथी को पीटा

मधुकर सिंह व परिवार से मारपीट का पता लगते ही जगह-जगह से युवा आवास विकास पहुंच गए। उग्र लोगों के दुकान पर पथराव करते ही शटर भीतर से बंद हो गया, तब तक पुलिस भी पहुंच गई। पुलिस की मौजूदगी में ही भीड़ बाहर रह गए मोबाइल कारोबारी के साथी से मारपीट पर आमादा होती रही। दो बार भीड़ ने पुलिसकर्मियों की आड़ लेकर छिप रहे साथी को पीट दिया। चौकी प्रभारी व दो जवानों ने किसी तरह भीड़ से युवक को बचाया।

===============

पुलिस ने सीसीसीटीवी खंगाल शुरू की जांच

बवाल की भोटियापड़ाव चौकी पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। दुकान व आसपास के प्रतिष्ठानों के सीसीटीवी फुटेज खंगाले जा रहे हैं। मधुकर सिंह ने मोबाइल कारोबारी वकार व अज्ञात साथियों के विरुद्ध मारपीट, गालीगलौच, धमकी, अभद्रता, छेड़छाड़ व लूटपाट की तहरीर दी है।

=============

दुकानदार समेत सात लोग हिरासत में

पुलिस ने उजालानगर निवासी मोबाइल दुकान के स्वामी वकार, उसके छोटे भाई तस्लीम अहमद, आजादनगर लाइन नंबर 18 निवासी मो. दानिश, भोलानाथ गार्डन निवासी मनोज बोरा, त्रिलोक नगर दोनहरिया निवासी भास्कर कठायत व गौजाजाली निवासी राजेश गुप्ता, दमुवाढूंगा के रबमीत को हिरासत में लिया है।

=============

आवास विकास में मारपीट व तोड़फोड़ की शिकायत मिलने पर पुलिस बल मौके पर पहुंचा। दुकानस्वामी समेत सात लोगों को हिरासत में लेकर कोतवाली लाया गया है। दूसरे पक्ष से पुलिस को शिकायत मिली है। मोबाइल शॉप व आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे खंगालकर जांच की जा रही है।

- संजय कुमार, प्रभारी निरीक्षक, कोतवाली हल्द्वानी

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस