जागरण संवाददाता, काशीपुर (ऊधमसिंह नगर) : मालगाड़ी का इंजन पटरी से नीचे उतरने के मामले में स्टेशन मास्टर, शंटिंग मास्टर और लोको पायलट को निलंबित कर दिया गया है। विभाग ने चार सदस्यीय टीम का गठन कर मामले की जांच शुरू कर दी है। सात दिन में कमेटी अपनी रिपोर्ट सौंपेगी।  

काशीपुर रेलवे स्टेशन पर सोमवार की शाम को एक मालगाड़ी पहुंची। इसके बाद मालगाड़ी को स्टेशन पर ही छोड़कर इंजन शंटिंग के लिए लाइन नंबर छह पर डाला गया। इंजन रोडवेज बस अड्डा क्रासिंग पर पहुंचने ही वाला था कि पटरी से उतर गया। पायलट ने इंजन को मौके पर ही रोक दिया और सूचना अधिकारियों को दी। सूचना पर रेलवे स्टेशन काशीपुर के अधिकारी व कर्मचारी मौके पर पहुंच गए। देर शाम आठ बजे इंजन को पटरी पर चढ़ाने का प्रयास करते रहे।

दो घंटे बाद लालकुआं से वरिष्ठ यांत्रिक इंजीनियर, सहायक मंडल सुरक्षा अधिकारी सहित एक टीम राहत गाड़ी के साथ मौके पर पहुंची। इसके बाद हाईड्रोलिक जैक के सहारे इंजन को पटरी पर लाया गया। इस मामले में बुधवार को इज्‍जतनगर पूर्वोत्तर रेलवे पीआरओ राजेन्द्र ङ्क्षसह ने बताया कि लोको पायलट बृजेश कुमार, स्टेशन मास्टर विनोद कुमार और शंटिंग मास्टर उमा शंकर को दोषी मानते हुए तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है। मामले में अधिकारियों की चार सदस्यीय टीम का गठन किया गया है। इसमें ओएनएस रजत प्रताप ङ्क्षसह, एबीएसओ बीएल मीना, एडीएसटीई धनंजय ङ्क्षसह शामिल हैं। यह टीम सात दिन में मामले में अपनी रिपोर्ट रेलवे को सौंपेगी। इसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप