हल्द्वानी, जेएनएन : तीन अलग-अलग सड़क हादसों में तीन लोगों की मौत हो गई। सोमवार सुबह पहला हादसा चोरगलिया में हुआ, जहां एक किशोर डंपर की चपेट में आ गया। वहीं दोपहर में एक बैंक कर्मी को स्कूटी सवार महिला ने टक्कर मार दी। जिसमें गंभीर चोटिल बैंक कर्मी ने अस्पताल में दम तोड़ दिया। स्कूटी चालक महिला व पंक्चर बनाने वाला मिस्त्री भी हादसे में जख्मी हो गए। तीसरा हादसा शाम को रामपुर रोड पर देवलचौड़ के समीप हुआ। इसमें कार एवं पिकअप से टकराने से बाइक चालक युवक की मौत हो गई और उसका साथी घायल हो गया। चोरगलिया में हुए हादसे में कासगंज बदायूं निवासी अमर सिंह का 12 वर्षीय पुत्र निर्बल सिंह की मौत हो गई। सुबह करीब 8:30 बजे निर्बल सिंह शौच के बाद जंगल से लौट रहा था। इस दौरान वह वहां से आ रहे टैक्ट्रर-ट्रॉली में बैठ गया। झाले के पास पहुंचने पर जैसे ही निर्बल टैक्ट्रर से कूदा, तो पीछे से आ रहे डंपर की चपेट में आने से उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया। 
हीरानगर में हुए हादसे में मूल रूप से लखनऊ के 8/645 विकासनगर निवासी रवि शर्मा (30) पुत्र सेफरी लाल शर्मा की मौत हो गई। केनरा बैंक की मुखानी शाखा में क्लर्क रवि दोपहर में अपने सहयोगी चेतन सिंह चौहान के साथ मंगलपड़ाव स्थित मुख्य ब्रांच से लौट रहे थे। क्रियाशाला के पास स्कूटी का पंक्चर टायर बनवाने के दौरान स्कूटी से आ रही रेनू पसवाल पत्नी कुंवर सिंह पसवाल निवासी प्रेमपुर लोश्ज्ञानी ने रवि को जोरदार टक्कर मार दी। रवि को तुरंत अस्पताल ले जाया गया, वहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। हादसे में रेनू व मिस्त्री उमेश सक्सेना भी जख्मी हो गए। 
सोमवार की शाम हुए हादसे में कार व पिकअप से टकराने के बाद बाइक चला रहे हरिपुर बच्ची हल्दूचौड़ निवासी दीपक बमेठा (24) पुत्र स्व. नंदन बमेठा व सवार सुंदर नयाल (28) गंभीर रूप से जख्मी हो गए। राहगीरों की मदद से दोनों को डॉ. सुशीला तिवारी अस्पताल ले जाया गया। यहां चिकित्सकों ने दीपक को मृत घोषित कर दिया।  

यह भी पढ़ें : किसानों की अत्‍महत्‍या और फसलों के भुगतान मामले हाई कोर्ट सख्‍त, मांगा विस्‍तृत ब्‍यौरा

यह भी पढ़ें : लीसा टेंडर में देरी से 20 हजार लोग बेरोजगार, कारोबारियों ने अफसरों को बताई अपनी पीड़ा

Posted By: Skand Shukla