संवाद सूत्र, जसपुर : ऊधमसिंहनगर जिले के जसपुर में लकड़ी लोडेड ट्रक और अल्टो कार की जोरदार टक्‍कर में तीन दोस्‍तों की दर्दनाक मौत हो गई। हादसा ठाकुरद्वारा रोड पर जसपुर-खेड़ागांव से करीब छह किलोमीटर आगे रविवार शाम करीब सात बजे हुआ। मौके पर मौजूद लोगों बताया कि जसपुर-खेड़ागांव से लकड़ी लोड करके एक ट्रक एचआर-63 सी 5553 चालक गुजरात के लिए जा रहा था। जबकी तीनों दोस्‍त अल्टो कार से बाजार जा रहे थे। सड़क हादसे में युवकों की गलती थी या ट्रक चालक की यह स्पष्ट नहीं हो सका है। हादसे के बाद गांव में कोहराम मच गया। बताया जा रहा है कि तीनों युवक बचपन के करीबी दोस्त थे। एक साथ ही पढ़ाई की थी। यहां तक कि बीते साल देहरादून से एक साथ ही बीटेक कम्‍प्‍लीट किया था।

ठाकुरद्वारा सड़क पर हुए दर्दनाक हादसे में 22 वर्षीय पियूष पुत्र गिरिराज सिंह निवासी गांव निवारमंडी, 26 वर्षीय अमन पुत्र डोरी सिंह निवासी गांव भगनपुर और 22 वर्षीय सूर्य प्रताप सिंह पुत्र ऋषि पाल सिंह निवासी गांव नागर कॉलोनी जसपुर की मौत हुई है। हादसे में शामिल 22 वर्षीय पियूष पुत्र गिरिराज सिंह विधायक आदेश चौहान का भतीजा है। हादसे की सूचना आसपास के लोगों ने जसपुर कोतवाली को दी। उसके बाद शूद मिल पुलिस चौकी से टीम मौके पर पहुंची। हादसे के बाद ट्रक चालक मौके से फरार हो गया। स्थानीय लोगों द्वारा ट्रक चालक की खोजबीन करने के बाद भी उसका कोई पता नहीं चल सका। उधर पुलिस शूदमिल पुलिस चौकी मामले की जांच में जुटी है।

बर्थडे का सामान लेने बाजार गए थे तीनों दोस्त

सड़क हादसे में तीन युवकों की मौत से क्षेत्र में कोहराम मचा है। तीनों एक साथ कार में बर्थडे के लिए सामान लेने जसपुर बाजार गए थे। अमन, पीयूष और सूर्यप्रताप रविवार शाम जब घर से निकले तो जल्द बर्थडे का सामान लेकर लौटने की बात कह गए थे। काफी देर बाद भी जब घर नहीं लौटे तो पीयूष का चचेरा भाई अमित उन्हें बुलाने जसपुर आया। रास्ते में ही घटनास्थल पर पहुंचा तो अमित भी अवाक रह गया। उसने घटना की सूचना स्वजनों को दी। तीनों दोस्त अविवाहित थे। अमन और पीयूष उर्फ निक्कू अपने माता-पिता के इकलौते पुत्र थे। दोनों की एक-एक बहन है। सूर्य प्रताप का एक छोटा भाई है। घर में माता-पिता और स्वजनों का रोते-रोते बुरा हाल है। पीयूष विधायक आदेश चौहान का भतीजा था। जानकारी मिलते ही विधायक आदेश चौहान, पूर्व विधायक डा. शैलेंद्र मोहन सिंघल व एएसपी काशीपुर भी अस्पताल पहुंच गए। इस दौरान ठाकुरद्वारा जसपुर मार्ग पर करीब एक घंटे तक जाम लगा रहा। हादसा इतना भयंकर था कि युवकों के शव कार काटकर निकाले जा सके।

Edited By: Skand Shukla