जागरण संवाददाता, रुद्रपुर: डेल्टा प्ल्स वैरिएंट के तीन और मरीज मिलने पर स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा है। विभाग इनके संपर्क में आए लोगों पर चौकसी रख रहा है। इससे पहले भी दिनेशपुर में एक डेल्टा प्ल्स वैरिएंट का मरीज मिल चुका है। हालांकि सभी मरीज स्वस्थ है। चिकित्सकों के मुताबिक दूसरे राज्यों के किसी संक्रमित डेल्टा प्लस मरीज के संपर्क में आने पर चारों मरीज संक्रमित हुए होंगे। हालांकि विभाग  इन पर नजर रख रहा है।

जुकाम बुखार होने की शिकायत पर कई लोगों की अप्रैल में काेरोना जांच के लिए नमूने लिए गए थे। कई लोग कोरोना संक्रमित पाए गए थे। एकत्र नमूनों में पांच फीसद नमूनों को जांच के लिए दिल्लीे भेजा गया था। बाद में आई जांच रिपोर्ट में सिडकुल में काम करने वाले ट्रांजिट कैंप के दो व आवास विकास के एक युवक डेल्टा प्लस वायरस से संक्रमित पाया गया। आनन फानन स्वास्थ्य विभाग ट्रांजिट कैंप व आवास विकास पहुंचकर युवक के संपर्क में आए 133 लोगों के नमूने जांच के लिए हैं। इनकी जांच काेरोना की होगी। इसके बाद डेल्टा प्ल्स की जांच के लिए दिल्ली भेजा जाएगा। इससे पहले जून में दिनेशपुर में लखनऊ से आए एक युवक में भी डेल्टा प्लस पाया गया था। हालांकि डेल्टा प्लस की रिपोर्ट आने से पहले सभी स्वस्थ हो चुके हैं और फिलहाल उन्हें किसी प्रकार की परेशानी नहीं है। चिकित्सकाें के मुताबिक जो लोग डेल्टा प्लस मरीज पाए गए है, हो सकता कि वे किसी बाहरी मरीज के संपर्क में आए होंगे। यदि लोकल स्तर पर डेल्टा प्लस वायरस फैला होता तो इसकी चपेट में काफी लोग आ सकते थे।  

एसीएमओ डॉ अविनाश खन्ना का कहना है कि तीन लोगों में डेल्टा प्लस पाए जाने पर स्वास्थ्य विभाग सतर्क हो गया है।इनके संपर्क में आए लोगों पर चौकसी रखी जा रही है। जिन 133 लोगों के नमूने लिए गए हैं, पहले उनकी कोरोना संक्रमण की जांच होगी। इसके बाद इनके नमूने दिल्ली में डेल्टा प्लस की जांच के लिए भेजे जाएंगे।

Edited By: Prashant Mishra