हल्द्वानी, जेएनएन : पोस्ट मानसून सीजन ने कुमाऊं की धरती को पानी के लिए तरसा दिया है। कुमाऊं मंडल में अक्टूबर के 20 दिन बीतने के बाद भी बरसात देखने को नहीं मिली है। खास बात यह है कि कुमाऊं मंडल के छह जिलों में से किसी में भी बारिश नहीं हुई है।

 

मानसून की विदाई के बाद से ही लगातार मौसम शुष्क बना हुआ है। तराई भाबर से लेकर पर्वतीय जिलों तक चटक धूप खिल रही है। पर्वतीय जिलों में सुबह शाम के समय ठंडक अपना अहसास कर आने लगी। इधर तापमान में गिरावट का सिलसिला भी शुरू हो गया है। हल्द्वानी में न्यूनतम तापमान 19 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है। वहीं अल्मोड़ा, नैनीताल में न्यूनतम तापमान 9 डिग्री और चंपावत में 11 डिग्री सेल्सियस पर आ गया है। मौसम विज्ञानियों की मानें तो आने वाले दिनों में तापमान तेजी से गिरेगा नवंबर की शुरुआत में पर्वती जिलों में तापमान चार से छह डिग्री सेल्सियस तक पहुंच सकता है।

 

कुमाऊं में जिलेवार बारिश का ब्यौरा (मिमी में)

जिला                   सामान्य बारिश    वास्तविक

पिथौरागढ़            47.1                   0.0

बागेश्वर                 21.1                   0.0

अल्मोड़ा               21.1                   0.0

नैनीताल               41.4                   0.0

यूएसए नगर          36.5                   0.0

चंपावत                 57.0                   0.0

(बारिश का ब्यौरा एक अक्टूबर से 20 अक्टूबर तक)

 

पश्चिमी विक्षोभ भी कमजोर रहा

मौसम विज्ञानी डा. आरके सिंह ने बताया कि इस बार बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र कम विकसित हुए। पश्चिमी विक्षोभ भी कमजोर रहा। इससे बारिश में कमी देखने को मिली है।

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस