हल्द्वानी, जेएनएन : हल्द्वानी टीचर्स एसोसिएशन ने पांच अक्टूबर से शहर के कोचिंग सेंटरों को खोलने ऐलान किया है। कहना है कि सरकार द्वारा बार-बार की जा रही अनदेखी से सेंटर संचालकों व उनसे जुड़े शिक्षकों के सामने भूखे मरने की नौबत आ चुकी है।

 

आदर्श नगर में हुई बैठक में हल्द्वानी टीचर्स एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने कहा कि अनलॉक के कई चरणों के बाद भी सरकार ने कोचिंग सेंटरों को खोलने को लेकर कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई है। जो शिक्षक अन्य लोगों को शिक्षित कर रोजगार-स्वरोजगार के लायक बनाते हैं वही आज बेरोजगार हो गए हैं। कहा कि इससे पूर्व मे भी एसोसिएशन द्वारा कई बार सरकार से कोचिंग सेंटर संचालन की अनुमति देने की गुहार लगाई।

 

बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि आगामी पांच अक्टूबर से एसोसिएशन से जुड़ लोग अपने-अपने संस्थानों को कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन करते हुए शुरू करेंगे। बैठक में संजय जोशी, परगट सिंह बरार, रमेश जोशी, कुलदीप सिंह, धीरज चौधरी, केएमएस रावत, सुभाष कांडपाल आदि मौजूद रहे।

 

आरपी जोशी बने मैनेजमेंट कमेटी के संरक्षक

बैठक के दौरान हल्द्वानी टीचर्स एसोसिएशन की मैनेजमेंट कमेटी का भी गठन किया गया। जिसमें सर्वसम्मति से आरपी जोशी को संरक्षक, नवल किशोर जोशी को प्रवक्ता, शंकर दयाल और सुनील पाठक को मीडिया प्रभारी चुना गया। इसके अलावा धीरज पाठक, नवीन तिवारी, रवि धरियाल, मनोज गुरुरानी, जीवन भट्ट, मनमोहन जोशी, राजेश डुंगराकोटी, नरेंद्र कुमार जोशी को कमेटी का सदस्य चुना गया।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस