नैनीताल, जागरण संवाददाता : नैनीताल पहुंचे भाजपा प्रदेश प्रवक्ता राजेश कुमार ने कहा है कि इस बार पार्टी युवा सरकार, 60 पार के नारे के साथ चुनाव लड़ेगी। चुनाव को लेकर प्रदेश स्तर पर संगठन की ओर से व्यापक तैयारियां शुरू कर दी है। अधिक से अधिक युवाओं को पार्टी से जोड़ चुनाव लड़ा जाएगा। कहा कि बीते एक माह में धामी सरकार का कार्यकाल ऐतिहासिक रहा है। उन्होंने युवाओं के साथ ही कोविड काल मे प्रभावित हुए लोगों को राहत पहुंचाने के लिए उल्लेखनीय निर्णय लिए हैं। यह देख कांग्रेस में भी हलचल मच गई है। जिससे पार्टी को पांच-पांच अध्यक्ष नियुक्त करने पड़े हैं।

बुधवार को पूर्व राज्यमंत्री व भाजपा प्रदेश प्रवक्ता राजेश कुमार नैनीताल पहुंचे। जहां नैनीताल क्लब में भाजपा कार्यकर्ताओं ने उनका जोरदार स्वागत किया। जिसके बाद उन्होंने कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर आगामी चुनाव की तैयारियों में जुट जाने का आह्वान किया। पत्रकार वार्ता कर राजेश कुमार ने कहा कि धामी सरकार ने एक माह के अंदर ही ऐतिहासिक निर्णय लिए हैं। चाहे वह नौकरशाही में परिवर्तन हो या युवाओं को रोजगार देने का निर्णय सराहनीय रहा है। उन्होंने कोविड काल मे प्रभावित हुए लोगों को राहत पैकेज देने के साथ ही कोरोना वॉरियर्स को प्रोत्साहन राशि दिए जाने का सराहनीय निर्णय लिया है। आगामी चुनाव पार्टी धामी के चेहरे के साथ ही लड़ेगी। पार्टी द्वारा युवाओं को मौका दिया जा रहा है। जिससे एक नवीन सोच के साथ प्रदेश प्रगति कर रहा है।

उन्होंने कहा कि धामी सरकार द्वारा अगले चार माह में पूरे प्रदेश की जनता को वैक्सीनेट करने का लक्ष्य रखा गया है। जिसको लेकर कार्यकर्ता भी सहयोग कर रहे हैं। बताया कि कोविड काल में सरकार के साथ ही पार्टी कार्यकर्ताओं ने भी जनता की भरपूर मदद की है। जरूरतमंदों तक राशन पहुंचाना हो या रक्तदान करना हर कार्यकर्ता बढ़-चढ़कर सामने आया है। जिसको देखते हुए पार्टी द्वारा अबकी बार, युवा सरकार, 60 पार का नारा निर्धारित किया गया है। यकीनन युवा नेतृत्व में प्रदेश का विकास होगा। उन्होंने कांग्रेस को नेतृत्व विहीन बताते हुए कहा कि संगठन चलाने के लिए कांग्रेस को पांच-पांच नेताओ को अध्यक्ष बनाना पड़ रहा है। इस दौरान नगर अध्यक्ष आनंद बिष्ट, अरविंद पडियार, मनोज जोशी, भूपेंद्र बिष्ट, सभासद मोहन नेगी, भगवत रावत, राहुल पुजारी, रोहित भाटिया, गुलाम मुस्तफा, अमित चौहान, आशु उपाध्याय, राजीव साह, उमेश भट्ट, विश्वकेतु वैद्य, अरुण कुमार, अतुल पाल, आदि कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Edited By: Skand Shukla