मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

रुद्रपुर, जेएनएन : बरेली के युवक को सितारगंज पुलिस ने शुक्रवार को 11 लाख रुपये की स्मैक के साथ गिरफ्तार कर लिया। उसका आपराधिक इतिहास खंगालने के लिए बरेली पुलिस से संपर्क किया गया है। ऐसे में जांच आगे बढ़ी तो तस्करी के पूरे रैकेट का भंडाफोड़ हो सकता है। 
शुक्रवार सुबह सितारगंज पुलिस को सूचना मिली कि बरेली से स्मैक की खेप आ रही है। एसएसपी बङ्क्षरदरजीत ङ्क्षसह ने बताया कि सूचना पर कार्रवाई करते हुए सीओ सितारगंज सुरजीत कुमार और कोतवाल संजय ङ्क्षसह पुलिस टीम के साथ आरके ढाबा किच्छा की ओर आने वाले बस स्टैंड के पास चेङ्क्षकग शुरू कर दी। इस बीच पुलिस को देख एक युवक भागने लगा। शक होने पर पुलिस कर्मियों ने उसका पीछा कर दबोच लिया। तलाशी लेने पर उसके पास से करीब 112 ग्राम स्मैक बरामद हुई। एसएसपी ने बताया कि युवक की पहचान मो.फैजान उर्फ बब्लू निवासी बसुपुरा गांव, थाना देवरनिया-बरेली  के रूप में हुई। पूछताछ में उसने बताया कि स्मैक बरेली से खरीदकर सितारगंज में बेचने की फिराक में था। इस मामले में पुलिस ने फैजान के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत केस दर्ज कर जेल भेज दिया। फैजान का आपराधिक इतिहास खंगालने के लिए सितारगंज पुलिस ने बरेली से संपर्क किया है। 

इलेक्ट्रिशियन से नशे का सौदागर बन गया 
फैजान पेशे से कूलर और फ्रिज रिपेयङ्क्षरग का भी काम करता है। इस बीच वह तस्करी के कारोबार में उतर गया। शुरुआती पूछताछ में पुलिस को कई अहम जानकारी हाथ लगी है। उसी आधार पर बरेली से संपर्क कर पूरी कहानी सामने लाने की तैयारी है।  

पुलिस टीम को मिलेगा इनाम 
स्मैक तस्कर को गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम को एसएसपी ने 2500 और एसपी सिटी देवेंद्र ङ्क्षपचा ने 1500 रुपये इनाम देने की घोषणा की है। टीम में कोतवाल सितारगंज संजय सिंह गब्र्यांल, एसआई धीरज वर्मा, कांस्टेबल नरेंद्र यादव, बलवंत सिंह, किरन मेहता शामिल रहे। 

Posted By: Skand Shukla

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप