नैनीताल, जेएनएन : शादी में जेवरात के साथ ही महंगी कार नहीं मिलन पर युवक ने भरी पंचायत में पत्नी को तीन तलाक दे दिया। पीडि़ता के मायके वालों ने कोतवाली में उसके खिलाफ तहरीर दी तो पुलिस ने मामला महिला हेल्प लाइन को भेज दिया है। मल्लीताल निवासी युवती की पिछले साल पांच दिसंबर को वेहदत रजा खां पुत्र साबिर निवासी घर इनायत खां कुमारो वाली गली थाना गंज, रामपुर उत्तर प्रदेश के साथ मुस्लिम रीति रिवाज से हुई थी। युवती के पिता के अनुसार शादी में पांच से छह लाख खर्च किया मगर शादी के बाद से ही ससुराल में शौहर सोने चांदी के जेवरात के बहाने ताने देते थे।

दहेज मेें छोटी कार दी थी मगर उससे नाखुश थे। पीडि़ता के अनुसार आरोपित रोज शराब पीकर आता था और अप्राकृतिक रूप से शारीरिक संबंध को मजबूर करता था, मना करने पर मारपीट करता था। सास व ननद भी मारपीट करने के साथ ही भूखा रखती थी। इस साल जनवरी में पीडि़ता गर्भवती हुई तो सास व ननद चेक अप कराने डॉक्टर के पास ले गए और दवा खिलाकर उसका गर्भपात करा दिया। इसका विरोध करने पर पीडि़ता को मारपीट कर घर से निकाला तो मायके आ गई। फिर भी उत्पीडऩ बंद नहीं हुआ, बाद में पंचायत बैठी तो शौहर ने छह अगस्त को तीन तलाक दे दिया। इसके बाद पीडि़ता की ओर से पुलिस चौकी मदरसा कोहना जेल रोड में भी दी मगर कोई कार्रवाई नहीं की।

एसएसपी रामपुर को भी पंजीकृत डाक से तहरीर भेजी। इधर मल्लीताल कोतवाली में ससुरालियों के खिलाफ तहरीर दी तो उन्होंने मामला महिला हेल्प लाइन भेज दिया। शुक्रवार को पीडि़ता के पिता के साथ महिला आयोग की पूर्व उपाध्यक्ष अमिता लोहनी कोतवाली पहुंचीं और उन्होंने कोतवाल अशोक कुमार सिंह व एसएसआइ बीसी मासीवाल से बात की। पुलिस अधिकारियों ने कहा है कि जल्द ही मामला दर्ज कर लिया जाएगा।

यह भी पढ़ें : नन्ही कली के साथ दुष्कर्म के बाद हत्या के मामले में डंपर चालक को फांसी की सजा

Posted By: Skand Shukla

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप