जागरण संवाददाता, हल्द्वानी : शासन से तय 500 रुपये मानदेय समेत नौ सूत्रीय मांगें पूरी न होने से नाराज सफाई कर्मचारियों ने रामलीला मैदान से एसडीएम कोर्ट तक मेयर की सांकेतिक शवयात्रा (symbolic funeral) निकाली। इस दौरान कर्मचारी छाती पीटकर फूट-फूट कर रोये और समर्थन देने पहुंचे गांधीनगर वार्ड के पार्षद रोहित कुमार ने मुंडन कर विरोध जताया।

मंगलवार को सफाई कर्मी रामलीला मैदान पर एकत्रित हुए। जिसके बाद यहां से जुलूस के रूप में मेयर की सांकेतिक शवयात्रा (mayor Jogendra Singh rautela) निकालते हुए एसडीएम कोर्ट पहुंचे और हाईवे पर पुतला रखकर प्रदर्शन शुरू कर दिया। इस दौरान करीब आधे घंटे तक जाम की स्थिति बनी रही। यहां नाटकीय ढंग से सफाई कर्मियों ने विरोध का माहौल बनाया।

संयुक्त मोर्चा के शाखा महामंत्री सुनील चौधरी ने कहा कि मेयर और निगम प्रशासन सिर्फ कोरे आश्वासन देकर उन्हें गुमराह कर रहे हैं। जब तक उनकी मांग पूरी नहीं होगी, आंदोलन जारी रहेगा। यहां संयुक्त मोर्चा के अध्यक्ष अशोक राज, रोहित टांक, सचिन भारती, शौकत अली, शिवम पाल, प्रशांत, अमन मसीह, रीना देवी, रामवतार राजौर, राहत मसीह, आदेश कुमार, श्याम सुंदर, अमरदीप चौधरी, जयप्रकाश आदि शामिल रहे।

सफाई के लिए पार्षदों ने संभाली कूड़ा वाहन की स्टेयरिंग

सफाई कर्मचारियों के हड़ताल के बीच नगर आयुक्त और पार्षदों ने शहर को स्वच्छ करने का बीड़ा उठा लिया है। सोमवार देर रात से पार्षद कूड़ा वाहनों की स्टेयरिंग थामे घर घर जाकर कूड़ा उठाते दिखे। निगम प्रशासन ने डंपिंग जोन से कूड़ा उठाने के साथ ही वार्डों में डोर-टू-डोर कूड़ा कलेक्शन किया। वरिष्ठ स्वास्थ्य अधिकारी डा. मनोज कांडपाल, सफाई निरीक्षक अमोल असवाल झाड़ू लगाते नजर आए।

शहर के विभिन्न वार्डों में 22 वाहनों से कूड़ा उठाया गया। आर्मी गेट, मुखानी चौराहा, हीरा नगर, बरेली रोड, दुर्गा मंदिर के पास, सिविल कोर्ट, एलआईसी आफिस के पास, कालटैक्स के पास, काठगोदाम, रेलवे स्टेशन, नारीमन चौराहा, शनि बाजार, टनकपुर रोड, कैनाल रोड और स्टेडियम के पास सफाई हुई। नगर आयुक्त पंकज उपाध्याय भी इस दौरान सफाई व्यवस्था का जायजा लेते रहे। उन्होंने बताया कि करीब 30 चालक काम पर लौट गए हैं। जिन्हें सफाई वाहन सौंप दिया गया है।

Edited By: Skand Shukla

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट