रुद्रपुर, जागरण संवाददाता : लालकुआं निवासी व्यापारी को हनी ट्रैप के जाल में फंसाकर 27 हजार ब्लेकमेल करने की फरार युवती समेत तीन आरोपितों की तलाश पुलिस ने तेज कर दी है। इसके लिए पुलिस की टीम नानकमत्ता समेत अन्य संदिग्ध ठिकानों पर दबिश दे रही है। जबकि गिरोह का मास्टर माइंड समेत तीन आरोपितों को पुलिस पहले ही जेल भेज चुकी है।

शनिवार को लालकुआं निवासी व्यापारी मोहम्मद यामीन को हनी ट्रैप के जाल में फंसाकर युवती समेत कई लोगों ने 27 हजार रुपये ले लिए थे। इस घटना को अंजाम देने के लिए उन्होंने अपने एक साथी को नकली पुलिस कांस्टेबल भी बनाया था। इसकी शिकायत पर कोतवाली पुलिस ने शांति विहार स्थित एक मकान में छापामार कार्रवाई करते हुए तीन युवकों को दबोच लिया था। जबकि तीन लोग फरार हो गए थे। पूछताछ में पकड़े गए युवकों ने अपना नाम कुलविंदर सिंह, मोनू और दीवान सिंह बताया।

बताया कि उन्होंने मोहम्मद यामीन को अपने नानकमत्ता निवासी महिला साथी पूजा और उसके दोस्त दीपा तथा बलवीर के साथ मिलकर हनी ट्रैप के जाल में फंसाया था और इससे पहले तीन अन्य लोगां को भी फंसा चुके हैं। इस पर पुलिस ने सभी आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कुलविंदर सिंह, मोनू और दीवान को जेल भेज दिया।

साथ ही फरार चल रहे पूजा, बलवीर और दीपा की तलाश पुलिस ने शुरू कर दी है। सीओ सिटी अमित कुमार ने बताया कि फरार आरोपितों की तलाश की जा रही है, जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा। इसके लिए पुलिस की एक टीम ने सोमवार को नानकमत्ता के साथ ही जिले के कई अन्य संदिग्ध ठिकानों पर दबिश दी।

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

Edited By: Skand Shukla