जागरण संवाददाता, हल्द्वानी : कर्फ्यू के दौरान शहर की व्यवस्था जांचने पहुंचे आईजी और एसएसपी ने प्रमुख स्थलों का निरीक्षण किया।  कुसुम खेड़ा तिराहे पर चेकिंग के बजाय किनारे बैठकर मोबाइल में गेम खेल रहे तीन पुलिसकर्मियों पर लापरवाही की गाज गिरी है। तीनों पुलिस कर्मचारियों को सस्पेंड कर दिया गया है।

 आईजी अजय रौतेला  हल्द्वानी शहर का निरीक्षण करने रविवार सुबह 10 बजे पहुंचे। एसएसपी प्रीति प्रियदर्शिनी के साथ उन्होंने सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया। सुशीला तिवारी अस्पताल पहुंचकर आईजी अजय रौतेला ने विभिन्न व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया। आईजी ने कहा कि महामारी के समय पुलिस विभाग के कर्मचारी पूरी जिम्मेदारी के साथ कार्य कर रहे हैं। यह काफी महत्वपूर्ण है कि लोगों की जान बचाने के लिए पुलिस, पीएसी, एसडीआरएफ आदि फोर्स एक साथ मिलकर कार्य कर रहे हैं। उन्होंने पुलिस कर्मचारियों व अन्य लोगों से मिलकर किए जा रहे कार्य के बारे में जानकारी भी प्राप्त कर कर्मचारियों की हौसला अफजाई की। आईजी ने मौके पर कर्मचारियों की स्वास्थ्य सुरक्षा के बारे में भी जानकारी प्राप्त की। जिसमें फेस शील्ड, विभिन्न इक्विपमेंट्स आदि के बारे में पूछा।

एसएसपी प्रीति प्रियदर्शिनी ने बताया कि शहर के विभिन्न चौराहों पर की जा रही पुलिस चेकिंग का भी जायजा लिया गया। आईजी अजय रौतेला बेल बाबा स्थित बैरियर पर भी गए। इसके अतिरिक्त गडप्पू स्थित बैरियर पर भी जाकर उन्होंने पुलिस कर्मचारियों का हौसला बढ़ाया। एसएसपी ने बताया की कुसुमखेड़ा तिराहे से जब उनका वाहन गुजरा तो मौके पर कोई जांच नहीं की जा रही थी। तीन पुलिस कर्मचारी सड़क किनारे बैठकर मोबाइल में गेम खेल रहे थे। ऐसे में लापरवाही के चलते उनके खिलाफ एक्शन लिया गया है, जिन्हें सस्पेंड कर दिया गया है।

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

Edited By: Prashant Mishra