जागरण संवाददाता, हल्द्वानी : कोरोना काल ने खाकी के भीतर छिपे इंसान की इंसानियत को भी दिखाया है। पिछले साल जब से कोरोना संक्रमण काल शुरू हुआ, पुलिस दिनरात लोगों की मदद करने में जुटी रही। जरूरतमंदों को राशन व दवाइयां उपलब्ध करना हो या उपचार के लिए अस्पताल पहुंचाना। पुलिस तन, मन, धन से लोगों के लिए जुटी हुई है। इस साल भी पुलिस लोगों की मदद करने के साथ ही शवदाह तक करा रही है। इसके बदले मिल रही लोगों की दुआ पुलिस का मनोबल बढ़ाती जा रही है। चंद दिनों में ही पुलिस ने कई लोगों की मदद कर दिल जीता है। पुलिस ने अपने मदद करने के अभियान को मिशन हौसला का नाम दिया है। इसी हौसले को साथ लेकर पुलिस के जवान दूर-दराज तक के क्षेत्रों में जाकर मदद पहुंचा रहे हैं।

केस - 1

18 मिनट में 15 किमी सफर तय कर पहुंचाया आक्सीजन सिलिंडर

रामनगर के टेड़ा गांव पीरूमदारा निवासी 35 वर्षीय मनोज सिंह चार दिन पहले हरियाणा से गांव आया था। कोरोना पाजीटिव मनोज होम आइसोलेशन पर था। शनिवार को मनोज की सांस फूलने लगी। इसका कारण शरीर में ऑक्सीजन की कमी थी। परिवार के एक व्यक्ति ने पुलिस को फोन कर मदद मांगी। पुलिस टीम आक्सीजन सिलिंडर की व्यवस्था कर मात्र 18 मिनट में 15 किमी की दूरी तय कर टेड़ा गांव पहुंची और मनोज को आक्सीजन लगायी गयी।

केस - 2

कोरोना पाजीटिव वृद्धा का पुलिस ने कराया दाह संस्कार

रामनगर के ग्राम सावदे में रहने वाली 78 वर्षीय अपनी ही झोपड़ी में जख्मी हो गयी थी। इसकी सूचना पर पुलिस टीम एंबुलेंस की व्यवस्था कर सावलदे गांव पहुंची और घायल वृद्धा को राजकीय अस्पताल रामनगर लाया गया। जांच में वह कोरोना पाजीटिव निकली। शनिवार को पार्वती ने दम तोड़ दिया। परिजनों के नहीं होने पर पुलिस ने वृद्धा के शव के दाह संस्कार का बीड़ा उठाया। पुलिस टीम शव लेकर घाट पहुंची और दाह संस्कार किया गया।

केस - 3

अग्निकांड पीडि़तों को पहुंचायी राहत सामग्री

कुछ दिन पहले बैलपड़ाव के बल्ली बैरियर क्षेत्र में झोपडिय़ों में आग लगने से आठ परिवार बेघर हो गए थे। शनिवार को पीरूमदारा चौकी प्रभारी के नेतृत्व में पुलिस टीम बेघर श्रमिकों का हाल-चाल जानने पहुंची। इसके साथ ही उनको राशन व राजमर्रा की जरूरतों की वस्तुएं उपलब्ध करायी गयी। दूसरी ओर आम्रपाली चौकी प्रभारी त्रिभुवन सिंह खड़कपुर ईसाई नगर में रहने वाली बुजुर्ग गंगाराम के घर पहुंचे। दरोगा त्रिभुवन को गंगाराम के अकेले रहने और राशन का संकट होने की जानकारी मिली थी। दरोगा ने गंगाराम का हाल-चाल जानने के साथ ही राशन आदि सामग्रियां उपलब्ध कराईं।

केस - 4

गांव-गांव घूमकर जरूरतमंदों को मदद पहुंचाने का सिलसिला

लाकडाउन शुरू होते ही गरीबों के सामने रोजी-रोटी का संकट खड़ा हो गया है। इस पर एसएसपी प्रीती प्रियदर्शिनी ने जिले भर के थानों को अपने-अपने क्षेत्र के जरूरतमंद गरीबों व बीमारों का पता लगाकर मदद पहुंचाने के आदेश दिए हैं। रोजाना भवाली, हल्द्वानी, रामनगर, मुक्तेश्वर, मुखानी, लालकुआं, नैनीताल थाना पुलिस गरीबों को राशन पहुंचाने के साथ ही बीमारों को उपचार में मदद कर रही है। इसके साथ ही कोरोना संक्रमण से सही हुए पुलिस के जवान मरीजों को प्लाज्मा डोनेट कर रहे हैं। पुलिस के अफसर से लेकर जवान तक लोगों से प्लाज्मा डोनेट की अपील कर रहे हैं। जिससे जनहानि से बचा जा सके।

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें