नैनीताल, जागरण संवाददाता : Haldwani Petrol Diesel Price : बीते दो माह से पेट्रोल-डीजल की कीमतों स्थिर बनी हुई हैं। मंगलवार को कोई परिवर्तन नहीं हुआ है। 16 अगस्त 2022 को सरकारी कंपनियों ने संशोधित कीमतें जारी कर दीं।

हल्द्वानी में पेट्रोल 94.43 पैसे और डीजल 89.55 पैसे प्रति लीटर मिल रहा है। इसी साल करीब ढाई माह पहले केन्द्र सरकार ने पेट्रोल पर आठ रुपये प्रति लीटर और डीजल पर छह रुपये प्रति लीटर ड्यूटी कम की थी। जिसके बाद सभी राज्यों में पेट्रोल डीजल की कीमतों में कमी देखने को मिली।

केन्द्र सरकार के अलावा राज्य सरकारें भी पेट्रोल-डीजल पर टैक्स वसूलती हैं। उत्तराखंड में प्रदेश सरकार तेल के मूल्य पर 16.97 प्रतिशत या 13.14 रुपये प्रति लीटर जो भी अधिक हो और डीजल पर 17.15 प्रतिशत या 10.41 पैसे प्रति लीटर जो भी अधिक हो, के हिसाब से वैट की दर निर्धारित करती है।

शहर   पेट्रोल    डीजल

हल्‍द्वानी-------94.43------89.55

नैनीताल------ 95.12-------90.06

पिथौरागढ़---97.12------91.96

रुद्रपुर--------94.83-----89.95

बागेश्वर------95.99 -------91.03

अल्‍मोड़ा-----95.49----90.48

चंपावत------96.20---- 91.25

देहरादून----95.35------90.34

ऋषिकेश---94.95------89.99

हरिद्वार-----94.47------89.58

रुड़की------94.35------89.46

नई टिहरी---96.07-------90.99

कोटद्वार----95.30------90.39

रुद्रप्रयाग----97.09----92.07

इस साल दस रुपए महंगे हुए तेल के दाम

इस साल मार्च और अप्रैल माह में करीब दस-दस रुपए पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी हुई। जिसका असर ट्रांसपोर्टेशन, निर्माण, खाद्य पदार्थों समेत हर सेक्टर में नजर आया। महंगाई का ग्राफ तेजी से बढ़ा। लेकिन सात अप्रैल से पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बहुत मामूली इजाफा हुआ है।

केन्द्र ने बीते साल भी घटाई थी ड्यूटी

केन्द्र सरकार ने बीते साल भी एक्साइज ड्यूटी की दरों में कटौती की थी। जिसके बाद कई राज्यों ने भी पेट्रोल-डीजल पर वैट (VAT) पर घटाया था। लेकिन कई गैर-बीजेपी शासित राज्यों ने वैट नहीं घटाया था। इनमें महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, केरल, झारखंड और तमिलनाडु ने वैट में कमी नहीं की थी। पिछले दिनों मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक में पीएम मोदी ने इन राज्यों को वैट की दरों में कटौती करने का आग्रह किया था।

Edited By: Skand Shukla