जागरण संवाददाता, काशीपुर : मुख्य विकास अधिकारी आशीष भटगाई ने विकास खंड कार्यालय काशीपुर व बाल विकास परियोजना दफ्तर का औचक निरीक्षण किया तो ब्लाक स्तरीय अधिकारियों व कर्मचारियों में हड़कंप मच गया। क्‍योंकि अधिकांंश डयूटी से नदारद पाए गए। उन्होंने कार्यालय से गायब रहने वाले प्रभारी बीडीओ समेत सात कार्मिकों का एक दिन का वेतन रोकने के आदेश दिए।

सीडीओ भटगाई ने शनिवार को ब्लाक के दफ्तरों का निरीक्षण किया तो बाल विकास विभाग की सुपरवाइजर हेमा कांडपाल, ग्राम्य विकास विभाग के प्रभारी खंड विकास अधिकारी ङ्क्षचता राम आर्य, सहायक खंड विकास अधिकारी महेश गंगवार, कनिष्ठ सहायक कार्तिक रावत, मनरेगा के जीआइएस एक्सपर्ट तरसीर आलम, एनआरएम एक्सपर्ट विनय कुमार तथा कोआर्डिनेटर आरिफ गायब मिले। इस पर उन्होंने अनुपस्थित अधिकारी, कर्मचारियों का शानिवार का वेतन रोकने के निर्देश दिए।

उन्होंने अनुपस्थित अधिकारी, कर्मचारियों को अनुपस्थिति के संबंध में तथ्यों पर आधारित लिखित स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने को कहा। कहा यदि स्पष्टीकरण संतोषजनक नहीं पाया गया तो संबंधित कार्मिक के खिलाफ विभागीय कार्यवाही की जाएगी। निरीक्षण में उन्होंने कार्यालय कक्षों के सभी पटलों में पत्रावलियों के अव्यवस्थित ढंग से रखरखाव, सफाई व्यवस्था पर नाराजगी जताई। 

नवनिर्मित कार्यालय का निरीक्षण करते हुए उन्होंने निर्माण कार्यों का निरीक्षण करते हुए निर्धारित समय के अंतर्गत उच्च गुणवत्ता से निर्माण करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने मनरेगा, एनआरएचएम, विधायक निधि एवं अन्य विकास कार्यों की समीक्षा करते हुए विकास कार्यों को पारदर्शिता, तथा समय से पूर्ण कराने के निर्देश भी दिए। 

Edited By: Prashant Mishra