जागरण संवाददाता, अल्मोड़ा: कोसी में ऊर्जा निगम के शटडाउन के कारण मुख्यालय की सवा लाख की आबादी को आज मंगलवार को पेयजल मुहैया नहीं हो सकेगा। पंपिंग नहीं हो पाने से मुख्यालय में सुबह 10 से शाम पांच बजे तक पेयजल आपूर्ति ठप रहेगी।

मुख्यालय में पेयजल आपूर्ति के लिए कोसी नदी लाइफलाइन है। नदी में पंपिंग के बाद मुख्यालय की सवा लाख की आबादी को पेयजल आपूर्ति होती है। लेकिन मंगलवार को कोसी स्थित बिजली घर में तीन एमवीए पावर ट्रांसफार्मर की क्षमता बढ़ाने के लिए कोसी मटेला स्थित जल संस्थान के पेयजल पंपों की विद्युत आपूर्ति सुबह 10 से शाम पांच बजे तक ठप रहेगी। जिसके चलते यहां पूरे दिन पंपिंग भी नहीं हो सकेगी। इस दौरान मुख्यालय में पेयजल आपूर्ति नहीं हो सकेगी।

पेयजल मंत्री मुख्यालय में और पानी से महरूम लोग

इसे इत्तेफाक कहें या नियति, दो दिनों से पेयजल मंत्री डा. धन सिंह रावत मुख्यालय के दौरे में हैं।और उनके भ्रमण के दौरान ही मुख्यालय की सवा लाख की आबादी पानी से वंचित रहेगी। डा. रावत रविवार की देर शाम वह अल्मोड़ा पहुंचे। सोमवार की रात्रि भी वह यहीं ठहरे हैं। पेयजल मंत्री के मुख्यालय में रहने के दौरान मंगलवार को पेयजल आपूर्ति ठप रहेगी।

जल संस्थान के सहायक अभियंता मंजुल मेहता ने बताया कि कोसी बिजली घर की क्षमता बढ़ाने के लिए ट्रांसफार्मर बदला जाना है, बिजली का शटडाउन रहना है। जिसके चलते पंपिंग ठप रहेगी। सुबह कुछ क्षेत्रों में पेयजल आपूर्ति की जाएगी, जबकि 10 से पांच बजे तक पेयजल आपूर्ति पूरी तरह ठप रहेगी। वहीं मुख्यालय में टैंकरों से भी पेयजल आपूर्ति की जाएगी।

Edited By: Prashant Mishra