नैनीताल, जेएनएन। हाई कोर्ट में एनएच 74 भूमि मुआवजा घोटाले के मामले में आरोपित आईएएस डॉ पंकज पांडे की गिरफ्तारी पर रोक सम्बन्धी याचिका पर सुनवाई हुई।

न्यायाधीश न्यायमूर्ति रविन्द्र मैठाणी की एकलपीठ ने मामले को अन्य बेंच रेफर कर दिया है। एनएच 74 के भूमि घोटाले की जाँच में पांडे का नाम भी उजागार हुआ था ।डॉक्टर पाण्डे उस समय ऊधम सिंह नगर के जिला अधिकारी थे। भूमि घोटाले में किसानों की कृषि भूमि को अकृषि भूमि दिखाकर करोड़ो रूपये का घोटाला सामने आया था जिसमे कृषक, अपर जिलाधिकारी,भू राजस्व अधिकारी,चकबन्दी अधिकारी, तहसीलदार, नायाब तहसीलदार सहित रास्ट्रीय राजमार्ग के अधिकारी भी शामिल थे। 11 मार्च 2017 को अपर जिलाधिकारी प्रताप शाह द्वारा पंतनगर थाने में आईपीसी की धारा 167, 218, 219, 420, 465, 466, 467, 472, 120 और 13(1) (डी) 8,9 भ्रष्‍टाचार निवारण अधिनियम में मुकदमा दर्ज किया था। पूर्व में पांडे ने हाई कोर्ट में अग्रिम जमानत के लिए याचिका दायर की थी जिसपर कोर्ट ने उनसे निचली अदालत में प्रार्थना पत्र देने को कहा था। डॉक्टर पाण्डे ने आज गिरफ्तारी पर रोक के लिए याचिका दायर की है। याचिका में एफआईआर निरस्त करने की मांग भी की गई है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस