हल्द्वानी, जेएनएन : लॉकडाउन की वजह से श्रमिकों के घरों को लौटने से विकास कार्यों पर भी असर पड़ रहा है। नेशनल हाइवे से जुड़े कई काम मात्र 20 फीसद श्रमिकों के सहारे चल रहे हैं। वहीं नैनीताल से ज्याेलीकोट तक हॉटमिक्स की काम श्रमिकों की वजह से शुरू नहीं हो पा रहा है। इससे परेशान ठेकेदार अब श्रमिकों को लेकर आने के लिए प्रशासन से अनुमति मांग रहे हैं।

नेशनल हाइवे से जुड़े अधिकांश काम बाहरी श्रमिकों पर निर्भर रहते हैं। वहीं कोरोना संक्रमण की वजह से लॉकडाउन के दौरान काम बंद हुए तो श्रमिकोंं ने अपने घरों की ओर लौटना शुरू कर दिया। लॉकडाउन की अनिश्चितता को देखते हुए कई ठेकेदारों ने भी श्रमिकों को जाने से नहीं रोका। वहीं चौथे चरण के लॉकडाउन में सरकार ने विकास से जुड़े कई कामों को करने के लिए भी अनुमति दे दी है।

वहीं अब काम शुरू करने या निर्माण में गति देने के लिए श्रमिकों के कमी ठेकेदार व एनएच विभाग के सामने आ रही है। एनएच के अफसरों के मुताबिक ठेकेदारों की ओर से श्रमिकों को उनके घरों से लाने की अनुमति ली जा रही है। जिनको प्रशासन अनुमति दे रहा है, वह श्रमिकों को लाने की तैयारी कर रहे हैं। वहीं कोरोना से खतरे से डरे श्रमिक भी आने में एतराज कर रहे हैं। इससे ठेकेदार व एनएच के विकास कार्यों पर असर पड़ रहा है।

नैनीताल-ज्योलीकोट के बीच नहीं हो पा रहा हॉटमिक्स

एनएच के अफसरों के मुताबिक नैनीताल-ज्योलीकोट मार्ग पर 3.78 करोड़ रुपये से हॉटमिक्स का काम होना है। इसकी टेंडर प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। इसके बावजूद श्रमिकों की कमी की वजह से काम शुरू नहीं हो पा रहा है। अफसरों के मुताबिक हॉटमिक्स का काम करने वाले श्रमिक दूसरे प्रदेशों से ही आते हैं। इसके अलावा हल्द्वानी-नैनीताल रोड पर 49 लाख रुपये से रोड सेफ्टी के काम होने हैं। 50 फीसद काम हो चुका है, लेकिन लॉकडाउन की वजह से ये बंद हो गया था। लॉकडाउन में छूट मिलने पर श्रमिकों की कमी की वजह से काम दोबारा शुरू नहीं हो पाया है।

इन कामों पर श्रमिकों कमी का असर

  • - काठगोदाम-नैनीताल मार्ग पर गुलाबघाटी के पास प्रोटेक्शन वर्क
  • - काठगोदाम-नैनीताल मार्ग पर रेस्टोरेशन एवं प्रोटेक्शन वर्क
  • - काशीपुर एमपी चौक पर टू लेन रोड ओवर ब्रिज निर्माण
  • - वीरभट्टी पर स्पान पुल निर्माण
  • - काशीपुर-मोहान मार्ग पर प्रोटेक्शन वर्क

पिथौरागढ़ में बीमार व गरीबी से तंग बुजुर्ज नदी में कूदा, रुद्रपुर में युवक ने की खुदकशी 

रेड जोन से आ रहे प्रवासियों के लिए की जा रही सेंट्रलाइज्ड क्वारन्टीन सेंटर की व्यवस्था  

Posted By: Skand Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस