नैनीताल, जागरण संवाददाता। Sanitation workers strike in Haldwani: हल्द्वानी में चल रही सफाई कर्मियों की हड़ताल पर आज फिर हाई कोर्ट का रवैया बेहद सख्त दिखा। छह दिनों से हड़ताल कर रहे कर्मचारियों को कोर्ट ने सख्त निर्देश दिए हैं। कहा है, दस मिनट में काम पर लौटो, नहीं तो कार्रवाई होगी। हाईकोर्ट के इस कड़े रुख के बाद छह दिन से चल रही हड़ताल खत्म हो गई है।

इस याचिका पर कोर्ट ने दिया आदेश

बुधवार को मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति विपिन सांघी व न्यायमूर्ति रमेश खुल्बे की हल्द्वानी निवासी दिनेश चंदोला की जनहित याचिका पर सुनवाई हुई। जिसमें कहा है कि पिछले 6 दिनों से हल्द्वानी में सफाई कर्मचारी हड़ताल पर हैं। हड़ताल से शहर कूड़े से पट गया है। शहर में डेंगू पहले से फैला हुआ है । ऐसे में सफाई न होने से जगह-जगह बिखरे कूड़े के कारण संक्रामक बीमारियों के फैलने का खतरा बढ गया है। कूड़े कचरे को जानवर खा रहे हैं।

कोर्ट ने कहा- पूरे शहर को नहीं बना सकते बंधक

आज सुनवाई के दौरान हाई कोर्ट ने सफाई कर्मचारियों को काम पर लौटने के कड़े निर्देश जारी किए और 10 मिनट में निर्णय लेने को कहा। हाई कोर्ट में सफाई कर्मचारी यूनियन के अधिवक्ता की ओर से बताया गया कि हड़ताल को तत्काल समाप्त कर दिया गया है, जिसके बाद कोर्ट ने सरकार को कहा है कि कर्मचारियों की मांग पर विचार कर सकते हैं। दौरान कोर्ट ने टिप्पणी भी की अपनी मांगों को मनवाने के लिये पूरे शहर को बंधक नहीं बनाया जा सकता है।

यह भी पढ़ें : हल्द्वानी में सफाई कर्मचारियों की हड़ताल पर हाईकोर्ट ने कहा, एसएसपी छुड़ाएं वाहन, वरना दर्ज करें मुकदमा 

यह है मामला

बता दें कि सफाई कर्मियों ने शासनादेश के मुताबिक, मानदेय बढ़ाने समेत पांच सूत्रीय मांगों को लेकर 24 नवंबर से हड़ताल कर दिया था। इसके बाद शहर की सफाई व्यवस्था चौपट हो गई है। कूड़ा न उठने से गली, मोहल्लों में गंदगी फैल चुकी है। यह देख नगर आयुक्त और नगर स्वास्थ्य अधिकारी ने खुद कूड़ा गाड़ी लेकर घर-घर से कूड़ा एकत्र किया था, जिसका वीडियो भी खूब वायरल हुआ था।

पिछली सुनवाई में भी सख्त थी कोर्ट

यह देख सफाई कर्मियों ने कूड़ा गाड़ियाें की चाबियां जब्त कर लीं। मगर हाई कोर्ट में मामला पहुंचने पर कोर्ट सख्त हो गया और एसएसपी को जब्त गाड़ियां छुड़ाने और इसमें अड़ंगा डालने वालों पर मुकदमा दर्ज करने के निेर्देश दिए थे। इस आदेश के बाद सफाई कर्मियों ने नगर निगम को कूड़ा गाड़ी की चाबियां सौंप दी थीं। मगर कर्मचारियों के काम पर न लौटने से सफाई व्यवस्था पटरी पर नहीं आ सकी है।

यह भी पढ़ेंं : हल्द्वानी में सफाईकर्मियों ने की हड़ताल तो नगर आयुक्त बने कूड़ा गाड़ी के चालक, नगर स्वास्थ्य अधिकारी हेल्पर 

Edited By: Rajesh Verma

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट