जागरण संवाददाता, रुद्रपुर : चाहे प्रधानमंत्री की जनसभा हो या सीएम की। नौ हजार से अधिक लोगों को जनसभा में खड़े होने की अनुमति नहीं मिलेगी। इसकी वजह कोविड की गाइडलाइन के हिसाब से इतने लोगों को खड़े होने की क्षमता ऊधमसिंह नगर के रुद्रपुर के मोदी मैदान की है। इस तरह का निर्णय जिला निर्वाचन अधिकारी ने लिया है।
विधानसभा चुनाव में राजनीतिक दलों एवं लडऩे वाले प्रत्याशियों की चुनाव प्रचार संबंधित जनसभाओं, रैलियों व बैठकों आदि के लिए मैदान, भवन व हाल चिन्हित किए गए हैं।  इन्हीं स्थानों पर ही कार्यक्रम होंगे। इसके लिए जिला निर्वाचन अधिकारी से अनुमति लेनी होगी। जिले में रैली, जनसभा या बैठक करने के लिए हाल, बारात घर, मैदान सहित 64 स्थान चिन्हित किए गए हैं।  इनमें जसपुर में पांच, काशीपुर में 14, बाजपुर में नौ, गदरपुर में पांच, रुद्रपुर में तीन, किच्छा में तीन, सितारगंज में नौ, खटीमा में 12, चिन्हित हैं। रुद्रपुर के मौदी मैदान में पांच हजार लोगों की कुर्सियां लगाकर बैठने की क्षमता है, जबकि नौ हजार लोग खड़े हो सकते हैं। कई ऐसे स्थान चिन्हित हैं, जहां पर 200 से कम की क्षमता है।

सबसे कम क्षमता वाला स्थान थारु विकास भवन खटीमा है, जहां पर सो लोग बैठ सकते हैं और 175 लोग खड़े हो सकते हैं। कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर की चपेट में यूएस नगर आ गया है। इसलिए कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए इस तरह का फैसला लिया गया है। जिला सहायक निर्वाचन अधिकारी राजेंद्र अधिकारी ने बताया कि कोविड को ध्यान में रखकर स्थान चिन्हित किए गए हैं। चिन्हित स्थानों पर ही राजनीतिक दल रैली, जनसभा या बैठक कर सकते हैं। 

Edited By: Prashant Mishra