बागेश्वर, जागरण संवाददाता : नाबालिग को भाग कर ले गए आरोपित को पुलिस ने ग्वालियर से गिरफ्तार कर लिया है। आरोपित के विरुद्ध दुष्कर्म और पॉक्सो अधिनियम में मामला पंजीकृत किया है। पीड़िता का मेडिकल परीक्षण कराया गया। आरोपित को न्यायालय में पेशी के बाद न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

बीते चार मई को कोतवाली क्षेत्र के एक वार्ड निवासी 17 वर्षीय बालिका एकाएक लापता हो गई। उसकी मां ने गुमशुदगी दर्ज की। धारा 365 में अज्ञात के विरुद्ध मामला दर्ज हुआ। पुलिस अधीक्षक अमित श्रीवास्तव ने कोतवाली को दिशा-निर्देश जारी किए। टीम गठित की गई और सर्विलांस के जरिए लापता बालिका की लोकेशन मध्यप्रदेश के ग्वालियर आई।

पुलिस टीम वहां रवाना हुई और नाबालिग के साथ ही आरोपित उदयराज पुत्र बसंत राज निवासी घोसपुरा नंबर एक, हजीरा को गिरफ्तार किया। पीड़िता के बयानों के आधार पर आरोपित के विरुद्ध धारा- 363/376(2)(एन) और 5/6 पोक्सो अधिनियम की बढ़ोत्तरी की गई। टीम में एसआइ निधि शर्मा, कांस्टेबल सुनील बहुगुणा, प्रियंका आदि शामिल थे।

क्या है मामला

तीन वर्ष पूर्व आरोपित उदयराज का रॉग नंबर लग गया। जिसे पीड़िता ने उठाया। बातों-बातों में दोनों की दोस्ती हो गई। उदयराज प्रेमजाल में ऐसा फंसा कि वह मध्यप्रदेश से बागेश्वर पहुंच गया। उसने पीड़िता से संपर्क किया और बिना स्वजनों को बताए वह यहां से चले गए। कोतवाल जगदीश ढकरियाल ने बताया कि मामले की सभी कोणों से जांच की जा रही है।

Edited By: Skand Shukla