जासं, नैनीताल : कुलपति प्रो. एनके जोशी ने डीएसबी परिसर के निदेशक प्रो. एचसी चंदोला को हटाते हुए प्रो. एलएम जोशी को फिर से निदेशक की जिम्मेदारी सौंप दी है। प्रो. जोशी ने कार्यभार भी ग्रहण कर लिया है।

लंबे समय से प्रो. चंदोला को निदेशक पद से हटाने की मांग कर रहे छात्रसंघ महासचिव हिमांशु भट्ट, पूर्व अध्यक्ष पंकज भट्ट, छात्रनेता विकास जोशी, उपाध्यक्ष अमन राणा, उपसचिव राकेश कुमार, कोषाध्यक्ष फैजान खान आदि शनिवार को विवि प्रशासनिक भवन पहुंचे और सांकेतिक धरना प्रदर्शन किया। करीब दो घंटे बाद कुलपति प्रो. एनके जोशी ने उन्हें वार्ता के लिए बुलाया और मांग स्वीकार होने के संकेत दिए। कुलपति के निर्देश के बाद कुलसचिव केआर भट्ट ने प्रो. चंदोला को हटाते हुए प्रो. एलएम जोशी को निदेशक पद पर नियुक्ति के आदेश जारी कर दिए। छात्रनेताओं ने इसे संघर्ष की जीत बताते हुए नए निदेशक को छात्रहितों के लिए पूरी तरह समर्थन देने का भरोसा दिया। एमबीपीजी कॉलेज हल्द्वानी के छात्रसंघ अध्यक्ष राहुल धामी, छात्र महासंघ उपाध्यक्ष नीरज तिवारी की ओर से भी कुलपति को प्रो. चंदोला को हटाने की मांग का समर्थन करते हुए पत्र सौंपा गया। तीन माह बाद फिर जिम्मेदारी

नैनीताल : डीएसबी परिसर के नवनियुक्त निदेशक प्रो. एलएम जोशी को करीब तीन माह बाद फिर से यह जिम्मेदारी दी गई है। प्रो. जोशी को 12 मार्च को पद से हटाते हुए प्रो. चंदोला को निदेशक बनाया गया था। मूल रूप से लोहाघाट के कनेड़ी निवासी ज्योतिषाचार्य दुर्गादत्त जोशी के बेटे प्रो. एलएम जोशी अंग्रेजी विभाग के प्रोफेसर हैं। उन्होंने कहा कि प्राध्यापक-कर्मचारियों व छात्रों से समन्वय स्थापित कर परिसर की बेहतरी को काम करेंगे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस