जागरण संवाददाता, अल्मोड़ा : थामस व उबर कप के विजेता अंतरराष्ट्रीय बैडमिंटन खिलाड़ी लक्ष्य सेन का अल्मोड़ा पहुंचने पर भव्य स्वागत किया गया। लक्ष्य इससे पहले कई अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में देश का नाम रोशन कर चुके हैं। लक्ष्य की एक झलक देखने को लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। सभी लोगों ने लक्ष्य को कामनवेल्थ, ओलंपिक के लिए शुभकामनाएं दीं।

रविवार को थामस व उबर कप विजेता बैडमिंटन टीम के लीडिंग अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी लक्ष्य सेन का अल्मोड़ा पहुंचने पर खिलाड़ियों, प्रशंसकों ने जोरदार स्वागत किया। मुख्यालय से 10 किमी दूर लोधिया नामक स्थान से उनके प्रशंसकों ने विजयी जुलूस निकाला। इसके बाद चौघानपाटा गांधी पार्क के पास लक्ष्य के स्वागत के लिए काफी संख्या में लोग पहुंचे थे। लोगों ने युवा शटलर लक्ष्य सेन को फूल माला पहना कर भव्य स्वागत किया।

इधर एक होटल सभागार में हुए कार्यक्रम में अंतरराष्ट्रीय बैडमिंटन खिलाड़ी लक्ष्य सेन का भव्य स्वागत किया गया। उन्हें शाल ओढ़ाकर सम्मानित किया। लोगों ने बारी-बारी से लक्ष्य और उनके पिता डीके सेन और माता निर्मला सेन को शाल ओढ़ाकर सम्मानित किया। लक्ष्य लोगों से रुबरु हुए। उन्होंने थामस कप के दौरान क्या-क्या हुआ। किस तरह से कप तक पहुंचे। वहां मौजूद लोगों को बताया। मुख्यालय के लोगों ने लक्ष्य से उम्मीद जताई है कि अब वह कामनवेल्थ, ओलंपिक खेलों में भारत का नाम रोशन करेंगे।

इन लोगों ने किया स्वागत

पालिकाध्यक्ष प्रकाश चंद्र जोशी, विधायक मनोज तिवारी, रघुनाथ सिंह चौहान, पीतांबर पांडे, विनीत बिष्ट, रेडक्रास सोसाइटी अध्यक्ष मनोज सनवाल, पूरन सिंह रौतेला, उत्तरांचल स्टेट बैडमिंटन संघ के सचिव बीएस मनकोटी, व्यापार मंडल नगर अध्यक्ष सुशील साह, गोकुल सिंह मेहता, डीके जोशी, प्रशांत जोशी, अमरनाथ सिंह रजवार, डीएसओ विनोद सिंह वल्दिया, डा. संतोष बिष्ट सहित कई खेल प्रेमी मौजूद थे।

चार साल की उम्र में कर दिया था खेलना

लक्ष्य ने चार साल की उम्र से खेलना शुरू कर दिया था। लक्ष्य की दसवीं तक की पढ़ाई अल्मोड़ा के बीरशिवा स्कूल में ही हुई। लक्ष्य के पिता डीके सेन बैडमिंटन के नामी कोच हैं और वर्तमान में प्रकाश पादुकोण अकादमी से जुड़े हैं। लक्ष्य सेन के दादा सीएल सेन को अल्मोड़ा में बैडमिंटन का पितामह कहा जाता है। 12 साल की उम्र में उन्होंने बंगलौर में प्रकाश पादुकोण की एकेडमी ज्वाइंन कर ली थी। वहीं रहकर उन्होंने बैडमिंटन की बारीकियां सीखी।

सेल्फी विद लक्ष्य

अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी लक्ष्य सेन को देखने के लिए लोगाें की खासी भीड़ थी। युवक-युवती व खिलाड़ी उनके साथ सेल्फी लेने के लिए बेकरार दिखाई दिए। एक सेल्फी के लिए लोगों को खासी मशक्कत करनी पड़ रही थी। लेकिन लक्ष्य ने प्रशंसकों को निराश नहीं किया।

Edited By: Skand Shukla