जागरण संवाददाता, किच्छा : सरिया भरा ट्रक चोरी करने के आरोप में पकड़ा गया बलजीत सिंह पहले उसी सरिया फैक्ट्री में काम करता था जिसका ट्रक चोरी किया था। प्रबंधन द्वारा उसे जब नौकरी से निकाला गया तो प्रबंधन को सबक सिखाने के लिए उसने चोरी की घटना को अंजाम दे दिया। लेकिन उसकी इस हरकत ने उसे ही मुसीबत में डाल दिया और वह वह सलाखों के पीछे पहुच गया।

बलजीत मां शीतला वेंचर्स लिमिटेड के ही पहले ड्राइवर रह चुका है। शराब के नशे का आदी होने के कारण बलजीत को प्रबंधन ने लगभग एक वर्ष पूर्व नौकरी से निकाल दिया था। उसने लगभग छह माह तक फैक्ट्री में काम किया था। वह फैक्ट्री से ट्रक लेकर लालपुर व आस पास के क्षेत्र में सरिया डिलीवरी देने जाता था। नौकरी जाने के बाद से ही वह प्रबंधन से बदला लेने की सोच रहा था।

गुरुवार को जब बलजीत पुत्र मस्सा सिंह निवासी भदईपुरा लालपुर पहुच तो उसे सरिया लदा फैक्ट्री का ट्रक वहा खड़ा दिखाई दिया। उसने आस पास देखा तो वहां कोई नही था। ट्रक के चारों तरफ घूम कर मुआयना करने के बाद जब उसे विश्वास हुआ तो वह ट्रक स्टार्ट कर फरार हो गया। उसे बिना चाबी के ट्रक स्टार्ट करने का हुनर भी पता था, जिसका सहारा ले वह ट्रक ले जाने में कामयाब हो गया।

नही मिला फैक्ट्री में कर्मियों का पुराना रिकॉर्ड

सरिया चोरी को लेकर पुलिस का शक पुराने कर्मचारी पर ही था। जिस पर पुलिस ने फैक्ट्री में पुराने कर्मचारियो का रिकॉर्ड खंगाला तो वहां कोई ऐसा रिकॉर्ड नही मिला। अगर फैक्ट्री में रिकॉर्ड मिल जाता तो पुलिस को पूरी रात धक्के खाने को मजबूर नही होना पड़ता।

Edited By: Skand Shukla