राकेश सनवाल, भीमताल : तीन सौ मीटर मोटर मार्ग बन जाता तो पांच किमी पहुंच जाते वाहन। हैरत में पड़ गए होंगे आप, मगर बात सत्य है। इतनी कम दूरी पर मार्ग का निर्माण नहीं होने से पूरे पांच किमी मोटर मार्ग से जुड़ने का सपना ग्रामीणों का धरा रह गया।

मामला विकासखंड भीमताल के अन्तर्गत भटेलिया (पिनरौ) से दुदली मोटर मार्ग से संबधित है। यह मार्ग 22 किमी का बनना था। वर्ष 2014 में तत्कालीन विधायक दान सिंह भंडारी व स्थानीय जनप्रतिनिधि उमेश पलड़िया को तत्कालीन मुख्यमंत्री हरीश रावत ने मोटर मार्ग की सैद्धांतिक स्वीकृति दी। इस संदर्भ में लोक निर्माण विभाग ने प्रथम चरण के लिए 19 लाख का प्रस्ताव शासन को भेजा। उसी बीच लोनिवि के पांच किमी तक का ही आगणन बनाने के शासनादेश ने मोटर मार्ग निर्माण की उम्मीद पर पानी फेर दिया।

ग्रामीण फिर भी हिम्मत नहीं हारे। पांच किमी मोटर मार्ग निर्माण के प्रथम चरण का 22 लाख रुपयों का आगणन दोबारा शासन को भेजा गया। इसी बीच ग्रामीणों ने मोटर मार्ग निर्माण का कार्य श्रमदान और विधायक निधि के पांच लाख रुपयों के सहयोग से प्रारंभ कर दिया। ग्रामीणों ने यह कार्य भटेलिया (पिनरौ) से शुरू न कर त्यौना से किया। पांच किमी मोटर मार्ग निर्माण में यह मार्ग त्यौना तक जाना था। यदि मोटर मार्ग भटेलिया (पिनरौ) से बनना प्रारंभ होता तो कच्चा मोटर मार्ग साढ़े चार किमी आसानी से बन जाता। भटेलिया पिनरौ अमृतपुर मुख्य मोटर मार्ग से जुड़ा है। लगभग साढ़े चार किमी से कुछ अधिक मोटर मार्ग का निर्माण त्यौना की तरफ से हो चुका है पर लगभग तीन सौ मीटर मार्ग का निर्माण धन की कमी के चलते नहीं हो सका। मार्ग बन जाता तो बर्फबारी में नहीं रुकते वाहन

22 किमी लंबा मोटर मार्ग बन जाता है तो धारी व ओखलकांडा में बर्फ पड़ने पर मोटर मार्ग बंद होने की संभावना खत्म हो जाएगी। यह मोटर मार्ग भटेलिया से दुदली, बबियाड़ होते हुए सुई, सुरंग, होते हुए खनस्यु तक पहुंचता है। जहां धानाचूली, जाड़ापानी, क्वैदल आदि में बर्फबारी होने से मोटर मार्ग बंद रहता है। इस मार्ग के बंद हो जाने से यह संभावना नहीं रहती। वहीं ग्रामीणों ने एक बार पुन: विधायक से त्यौना से भटेलिया (पिनरौ) तक मिलान की मांग की है।

--------------- तीन सौ मीटर के करीब कच्चा मोटर मार्ग बन जाएगा तो वास्तव में पांच किमी तक वाहन पहुंच सकेंगे। मैंने पहले भी पांच लाख रुपये विधायक निधि से दिए हैं। अब चूंकि मोटर मार्ग का मिलान मुख्य मोटर मार्ग तक नहीं हो सका है, इसलिए उस मिलान के लिए जितने भी धन की आवश्यकता होगी, मैं दूंगा।

- राम सिंह कैड़ा, विधायक

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021