जागरण संवाददाता, हल्द्वानी : रामगढ़ निवासी खनन कारोबारी की तहरीर पर पुलिस ने रामपुर रोड स्थित एक प्रतिष्ठित होटल के मालिक समेत तीन लोगों पर धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया है। आरोप है कि होटल कारोबारी ने जमीन दिलवाने के चक्कर में डेढ़ करोड़ रुपये ऐंठ लिए। इसके बाद शिकायतकर्ता को धमकाया भी गया।

रामगढ़ के झुतिया गांव निवासी दीपक सिंह खनन कारोबारी ने तहरीर में कहा है कि रामपुर रोड के जीतपुर नेगी गांव निवासी होटल कारोबारी गोपाल नेगी के साथ उसके व्यावसायिक रिश्ते थे। अप्रैल 2017 में गोपाल नेगी ने पैसों की जरूरत पड़ने पर उससे होटल के बगल की खाली पड़ी जमीन का सौदा किया। 9,180 वर्ग फीट प्लॉट का सौदा तीन करोड़ 21 लाख तीस हजार रुपये में हुआ। डेढ़ करोड़ रुपये इकरारनामे के समय दिए गए थे। इस साल अप्रैल में बाकि रकम देने के साथ जमीन की रजिस्ट्री होनी थी। आरोप है कि मार्च माह में पैसों का इंतजाम कर जब दीपक ने जमीन की रजिस्ट्री कराने को कहा तो होटल कारोबारी आनाकानी करने लगा, जिसके बाद गोपाल नेगी ने मोबाइल बंद करने के साथ मिलने से भी मना कर दिया। इस बीच शक होने पर दीपक ने हल्द्वानी तहसील में जमीन का रिकॉर्ड निकलवाया तो उसके होश उड़ गए। होटल कारोबारी ने जिस जमीन का सौदा किया वो मल्ला गोरखपुर निवासी इंदिरा सिंह पत्नी ध्रुव नारायण के नाम पर दर्ज थी। गोपाल नेगी से जब अपनी रकम वापसी मांगी तो आरोपित के भतीजे प्रदीप ने दीपक को मिलने के लिए बुलाया। आरोप है कि प्रदीप ने रामपुर रोड निवासी अपने दोस्त कैलाश कुल्याल के साथ उसे अपशब्द कहे और जान से मारने की धमकी दी। ट्रांसपोर्ट नगर चौकी प्रभारी अजेंद्र प्रसाद ने बताया कि मामले की जांच के बाद होटल कारोबारी गोपाल नेगी, भतीजे प्रदीप व कैलाश कुल्याल के खिलाफ धोखाधड़ी, मारपीट व धमकाने की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप