जागरण संवाददाता, हल्द्वानी : Kumaon Weather News Update : पश्चिमी विक्षोभ व बंगाल की खाड़ी में बने कम दबाव के क्षेत्र से कुमाऊं में बारिश का दौर शुरू हो गया है। रविवार दिन में बूंदाबांदी के बाद शाम को हल्द्वानी समेत जिले के अन्य हिस्सों बारिश हुई। हल्द्वानी का अधिकतम तापमान 31.7 व न्यूनतम 23.7 डिग्री रहा। मौसम विभाग ने नैनीताल समेत कुमाऊं के सभी छह जिलों में सोमवार को बारिश, अंधड़ व आकाशीय बिजली चमकने का रेट अलर्ट जारी किया है। कुमाऊं भर में स्‍कूलों को बंद रखा गया है। तो पर्यटकों को पर्वतीय इलाकों में जाने से रोका जाएगा। इसको लेकर अलर्ट भी जारी किया गया है।

मानसून की विदाई बाद रविवार देर शाम हल्द्वानी की सड़कों पर फिर से पानी नजर आया। बारिश ने उमस से जरूर राहत पहुंचाई है, लेकिन किसानों की चिंता बढ़ा दी है। मैदानी इलाकों में धान की कटाई शुरू हो चुकी है तो पर्वतीय क्षेत्र में घास की कटाई जोरों से चल रही। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक सोमवार का दिन अधिक मुश्किलों भरा रहने की संभावना है। जिला व पुलिस प्रशासन ने सभी अधिकारियों, सीओ, थाना, चौकी प्रभारियों, आपदा प्रबंधन टीम व एसडीआरएफ को उपकरणों के साथ अलर्ट रहने के निर्देश दिए हैं। बारिश, अंधड़ व आकाशीय बिजली विभागीय व प्रशासनिक तैयारियों को परखेगी।

ये परेशानी आने की संभावना

शहर व निचले इलाकों में जलभराव

संवेदनशील पर्वतीय इलाकों में भूस्खलन

बरसात में दृश्यता कम होने की संभावना

कच्ची सड़कों के टूटने, मलबा आने की संभावना

खड़ी फसलों को बारिश, अंधड़ प्रभावित कर सकती है

अंधड़ से पेड़ उखडऩे व शाखाएं टूट सकती हैं

मौसम विभाग ने जारी की सलाह

किसान खुली जगह पर न जाएं

मवेशी चराने जंगल जाने से बचें

आम, लीची आदि के बगीचों में न जाएं

बच्चों को घर से बाहर न जाने दें

पेड़, बिजली पोल आदि के नीचे शरण न लें

बिजली चमकने के दौरान घरों के भीतर रहें

मंगलवार से बारिश में आएगी कमी

राज्य मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि मंगलवार को भी कुमाऊं के अनेक हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश होने व अंधड़ चलने की संभावना है। हालांकि बारिश की तीव्रता में कमी आएगी। बुधवार से कुमाऊं में मौसम साफ होने लगेगा।

पटवारी से लेकर प्रधानों को किया सूचित

सिटी मजिस्ट्रेट ऋचा सिंह ने बताया कि तहसील परिसर में आपदा कंट्रोल रूम सतर्क कर दिया गया है। पटवारी से लेकर ग्राम प्रधानों को भी अलर्ट किया गया। नदी किनारे न जाने की सलाह दी गई है। सभी अधिकारियों व कर्मचारियों की ड्यूटी लगा दी गई है।

Edited By: Skand Shukla