नैनीताल, जेएनएन । हाई कोर्ट ने राजस्व अदालतों के मामलों की सुनवाई सिविल कोर्ट में किए जाने के सम्बन्ध में दायर जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए अगली तिथि बुधवार नियत की है ।

मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति रमेश रंगनाथन व न्यायमूर्ति एनएस धानिक की खंडपीठ अधिवक्ता सनप्रीत अजमानी की जनहित याचिका पर सुनवाई हुई। याचिका में कहा है कि प्रदेश के राजस्व न्यायालयों में सालों से कंसोलिडेशन, टाइटिल फ्रेम से सम्बंधित केस लंबित हैं। इन मामलों में वादकारियों को तारीख तो मिलती है लेकिन केस का निस्तारण कई वर्षो से नहीं हुआ है। क्योंकि की इन अदालतों में केस की सुनवाई प्रशासनिक अधिकारियों के द्वारा की जाती है। उनका अधिक समय वीआईपी ड्यूटी में ही बीत जाता है या सरकारी कार्यो के करने में। जिससे फलस्वरूप रेवन्यू न्यायलयों में मुकदमों का निस्तारण समय पर नहीं हो रहा है। याचिकाकर्ता ने यह प्रार्थना भी की है कि रेवन्यू कोर्ट के मुकदमाें की सुनवाई सिविल अदालतों में की जाय।

यह भी पढ़ें : राज्य आंदोलनकारियों को मुजफ्फरनगर कांड के मामले में हाई कोर्ट से न्याय की उम्मीद खत्म

यह भी पढ़ें : अभिनंदन स्टाइल में मूंछ रखने पर रोक! आदेश की प्रति सोशल मीडिया में हो गई वायरल

 

Posted By: Skand Shukla