जागरण संवाददाता, नैनीताल : बागेश्वर के गणित के शिक्षक हरिमोहन ऐठानी ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर गणित थ्योरी सिद्ध की है। उन्हें अमेरिकन गणितज्ञ व बैंकर एंड्रयू बील ने नंबर थ्योरी पर आधारित सवाल के लिए चैलेंज किया था। उन्होंने 15 दिनों के भीतर सवाल का जबाव तैयार किया और कलाम्स बुक ऑफ द रिकार्ड में उसे छापा गया है। उनकी इस उपलब्धि पर प्रदेश का मान बढ़ा है। राउमावि कपकोट में तैनात हरिमोहन ऐठानी गणित के शिक्षक हैं। वे लंबे समय से गणित के अनसुलझे सवालों को सुलझाने की कोशिश कर रहे हैं। इसके अलावा मैजिक स्क्वायर में भी उन्हें महारत हासिल है। इंटरनेट के जरिए अमेरिकन गणितज्ञ व बैंकर एंड्रयू बील ने नंबर थ्योरी को हल करने का चैलेंज दिया। यह थ्योरी 381 साल पुरानी बताई गई। शिक्षक हरिमोहन ने चैलेंज को स्वीकार किया और 16 जून 2018 से सवाल का जबाव बनाना शुरू किया। 15 दिनों की कड़ी मेहनत से सवाल का हल निकाला। उन्हें सवाल का हल मुंबई की संस्था अमीराज को भेजा। अमीराज ने उनके उत्तर को नौ पेज में प्रकाशित किया है। अंतरराष्ट्रीय स्तर की किताब में प्रकाशन से ऐठानी प्रफुल्लित हैं। सही और गलत करना था साबित 44 साल के शिक्षक हरिमोहन ने बताया कि सवाल था- एक का मान एक्स प्लस बी का मान वाइ बराबर सी का मान दो। जिसे सही और गलत के रूप में साबित करना था। पहले भी रिकार्ड लिम्का बुक आफ नेशनल रिकार्ड 2015, लिम्का आफ व‌र्ल्ड रिकार्ड 2016, व‌र्ल्ड रिकार्ड इंडिया बुक 2015, यूनिवर्सल रिकार्ड फोरम व‌र्ल्ड रिकार्ड 2016, आनलाइन व‌र्ल्ड रिकार्ड 2015, एवरेस्ट बुक आफ रिकार्ड 2017, वंडर बुक आफ व‌र्ल्ड रिकार्ड 2015, नेशनल ज्यूरी व‌र्ल्ड रिकार्ड 2016, मेगास्टार व‌र्ल्ड रिकार्ड 2017 और आसाम बुक आफ व‌र्ल्ड रिकार्ड 2017। सराहनीय प्रयास डायट, बागेश्वर बीडी जोशी ने बताया कि शिक्षक हरिमोहन ऐठानी का प्रयास सराहनीय है। आपकी मेहनत एक दिन जरूर रंग लाएगी। हालांकि अभी तक गणित के क्षेत्र में इतना कुछ करने के बावजूद सम्मान पीछे है।