हल्द्वानी, जेएनएन : सरकार के जिम खोलने के फैसले से इस कारोबार से जुड़े लोगों के साथ ही व्यायाम के इच्छुक युवाओं में जोश है। जिम संचालकों ने कोविड-19 सुरक्षा मानकों को पूरा करने के लिए तैयारी कर ली है। मंगलवार को अधिकाश संचालकों ने मशीनों की जाच व मरम्मत के साथ प्रशिक्षण केंद्रों की साफ-सफाई की। केंद्र सरकार ने पाच अगस्त से जिम खोलने की अनुमति दे दी है।

 

140 दिन बाद जिम खुलने से जिम कारोबार से जुड़े लोगों को रोजगार चलने की उम्मीद जगी है। वहीं कसरत करने वाले युवाओं ने भी संपर्क करना शुरू कर दिया है। युवकों के साथ ही युवतियों व महिलाओं में भी जिम खुलने को लेकर क्रेज दिख रहा है। जिम संचालकों ने कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सभी इंतजाम पूरे करने का दावा किया है।

 

पवन वर्मा, संचालक प्रतिबिंब जिम, मुखानी ने बताया कि जिम में प्रवेश के लिए मास्क अनिवार्य रहेगा। जिम में आने पर पहले प्रशिक्षु की थर्मल स्क्रीनिंग कर सैनिटाइज किया जाएगा। थर्मल स्क्रीनिंग में फिट युवक-युवतियों को ही प्रवेश दिया जाएगा। नवाबी रोड पर फिटनेस मंत्रा चलाने वाली प्रीति रौतेला ने बताया कि लेडी जिम चार महीने बाद जिम दोबारा शुरू हो रहे हैं। महिलाओं को चुस्त-दुरुस्त और फिट बनाने के लिए हम भी दुगुने उत्साह और ऊर्जा के साथ तैयार हैं।

 

रोपुर रोड पर फिटनेस फ‌र्स्ट नाम से जिम चलाने वाले ज्ञानदीप ऊर्फ सोनू चौहान ने कहा कि 140 दिन से जिम कारोबार ठप पड़ा था। इससे जिम संचालकों को भारी नुकसान उठाना पड़ा। वहीं कसरत के दिवाने युवाओं को भी मायूस होना पड़ा था। संचालक फाइट टू फिट, कुसुमखेड़ा विक्की राणा ने बताया कि सरकार का निर्णय स्वागत योग्य है। हालाकि इसे पहले लिया जाना था। व्यायाम करने से लोगों में रोगों से लड़ने के लिए प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस