जागरण संवाददाता, नैनीताल : भारतीय शहीद सैनिक विद्यालय व आचार्य नरेन्द्र देव शिक्षा निधि के संयुक्त तत्वावधान में समाजवादी विचारक व पूर्व मंत्री प्रताप भैया को पुण्यतिथि पर भावपूर्ण स्मरण किया गया। पूर्व मंत्री की पुण्यतिथि पर ऑनलाइन व भौतिक दोनों रूप में कार्यक्रम हुआ। सोमवार को ऑनलाइन कार्यक्रम में मुख्य वक्ता पूर्व मुख्यमंत्री व महाराष्ट्र के राज्‍यपाल भगत सिंह कोश्यारी का संदेश उनके प्रतिनिधि ध्रुव रौतेला ने पढ़कर सुनाया।

कोश्यारी ने अपने संदेश में कहा कि पूर्व मंत्री ने राम मनोहर लोहिया, आचार्य नरेन्द्र देव के विचारों व सिद्धांतों को आत्मसात कर शिक्षा व समाज सेवा के माध्यम से मानव उत्थान का कार्य किया। मानवाधिकार आयोग के सदस्य व सेवानिवृत्त न्यायाधीश पीसी पंत भी ने पूर्व मंत्री प्रताप भैया को याद करते हुए कहा कि उन्होंने नि:स्वार्थ भावना से कार्य कर समाज उत्थान अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

पूर्व न्यायाधीश राजेश टंडन ने कहा कि प्रताप भैया हर शनिवार व रविवार को बैठक के माध्यम से लोगों को अपने विचार व्यक्त करने का प्रशिक्षण देते थे ताकि लोकतंत्र की मजबूती में हर नागरिक की भूमिका रहे। कार्यक्रम में प्रताप भैया के चित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धासुमन अर्पित किए। इस अवसर पर पीजी कॉलेज लोहाघाट के डा. प्रकाश लखेड़ा को प्रताप भैया अवार्ड से सम्मानित किया गया।

शहीद सैनिक स्कूल के प्रधानाचार्य बिशन सिंह मेहता ने कहा कि पूर्व मंत्री ने दूरस्थ क्षेत्रों में विद्यालयों की स्थापना कर शिक्षा की अलख जगाई। अध्यक्षता कर रहे पूर्व विधायक डा.एनएस जंतवाल ने कहा कि पूर्व मंत्री ने अंतिम छोर में खड़े व्यक्ति को आगे लाने में अहम भूमिका निभाई। जिला बार एसो. के पूर्व अध्यक्ष ज्योति प्रकाश व भुवन पंत ने धन्यवाद ज्ञापित किया जबकि संचालन आचार्य नरेंद्र देव शोध संस्थान की निदेशक प्रो. नीता शर्मा ने किया।

इस अवसर पर शहीद स्मारक विद्यापीठ की प्रधानाचार्य तारा बोरा, बसंती खाती, पूरन सिंह खाती, रवींद्र कुमार, प्रो. शुचि बिष्टए प्रो मधुरेंद्र कुमार, डा. लता जोशी, डा. मनोज कुमार ने विचार रखे। शहीद सैनिक स्कूल के पूर्व छात्रसंगठन के अध्यक्ष डा. मनोज बिष्ट, गुड्डू, उपाध्यक्ष मनोज अधिकारी, सचिव डा. महेंद्र राणा, डा. लक्ष्मण सिंह रौतेला, कुंदन सिंह, मनीष जोशी, दीपक पांडे, राजेंद्र अधिकारी आदि ने भी पूर्व मंत्री को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की।

 

Edited By: Skand Shukla