जागरण संवाददाता, रुद्रपुर : आस्ट्रेलिया में नौकरी के लिए वीजा दिलाने का झांसा देकर एक्सएलएनसी वीजा कंसलटेंट के संचालकों ने बिलासपुर निवासी युवक से 12 लाख की ठगी कर ली। जब रुपये वापस मांगे गए तो देशी पिस्टल दिखाकर जान से मारने की धमकी दी। कोर्ट के आदेश पर पुलिस ने चार नामजद और एक अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

सुभाष नगर डिबडिबा बिलासपुर निवासी जगदीप सिंह ने कोर्ट को सौंपे शिकायती पत्र में कहा था कि वह बेरोजगार है। उसकी जान पहचान एक्सएलएनसी वीजा कंसलटेंट आवास विकास के विजय पुत्र ताराचंद से है। इस दौरान विजय ने बताया कि वह उसे विदेश भेज सकता है और इसके लिए 12 लाख का खर्च आएगा। जिससे आस्ट्रेलिया के लिए वर्क वीजा बनने में आसानी रहेगी।

विजय की बातों पर विश्वास कर वह आठ दिसंबर को 2021 को उनके कार्यालय में चला गया। जहां पर विजय के पार्टनर संदीप सिंह, कुलदीप सिंह पुत्र काल सिंह, बलविन्दर सिंह पुत्र मोहन सिंह व एक अन्य पार्टनर मौजूद था। 10 दिसंबर 2021 को उसने पासपोर्ट, फोटो, अंकतालिका हाईस्कूल, आधार कार्ड व अन्य आवश्यक कागजात एक एक लाख रुपये उन्हें दे दिए। इसके अलावा 11 दिसंबर 2021 को 2.60 लाख रुपये और दिए।

बाद में उनके कहने पर उसने अलग अलग तिथि में 12 लाख रुपये विजय और उसके पार्टनर तक पहुंचाए। जब वह वीजा लेने उनके कार्यालय गया तो बंद मिला। इस पर उसने विजय, कुलदीप सिंह, बलविंदर सिंह, मंदीप सिंह की तलाश की तो पता चला कि मंदीप के खिलाफ दो केस दर्ज है।

जब उसने वीजा न देने पर रुपये वापस मांगे तो वे गालीगलौज करने लगे।साथ ही कुलदीप सिंह ने उस पर देशी पिस्टल तान दी और जान से मारने की धमकी दी। इसकी शिकायत उसने 24 मई 2022 को थाना ट्रांजिट कैम्प पुलिस से की लेकिन कार्रवाई नहीं हुई। कोर्ट के आदेश पर पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज कर लिया है।

Edited By: Skand Shukla