नैनीताल, [जेएनएन]: ऊधमसिंह नगर जिले के बहुचर्चित हरिद्वार-ऊधमसिंहनगर-बरेली एनएच-74 मुआवजा घोटाला मामले में निलंबित आइएएस डॉ. पंकज कुमार पांडे अग्रिम जमानत के लिए हाई कोर्ट पहुंच गए हैं। उन्होंने गिरफ्तारी पर रोक लगाने के लिए याचिका दायर की है। कोर्ट गुरुवार को इस मामले में सुनवाई कर सकती है। हाल ही में अग्रिम जमानत का आदेश प्रभावी होने के बाद हाईकोर्ट में यह पहला प्रार्थना पत्र दाखिल हुआ है।

एनएच घोटाले की जांच कर रही एसआइटी की रिपोर्ट के आधार पर पिछले दिनों ऊधमसिंह नगर के तत्कालीन जिलाधिकारी डॉ. पंकज पांडे व चंद्रेश यादव को शासन ने निलंबित कर दिया था। निलंबन की कार्रवाई के बाद एसआइटी ने शासन से मुकदमे की अनुमति मांगी है। इधर डॉ. पांडे ने बुधवार को याचिका दायर कर अदालत से अग्रिम जमानत की प्रार्थना की है।

बहुचर्चित एनएच मुआवजा घोटाले में एसआइटी अब तक दो सौ करोड़ से अधिक की रकम का पता लगा चुकी है। साथ ही घोटाले की साजिश रचने समेत वित्तीय गड़बडिय़ों में करीब दो दर्जन अफसर, कर्मचारी, पूर्व कर्मचारी, किसान व राजस्व से संबंधित पेशे से जुड़े लोग न्यायिक हिरासत में जेल भेजे जा चुके हैं। वहीं 18 किसानों के लिए एंटी करप्शन कोर्ट ने हाल ही में गैर जमानती वारंट जारी किया है। 

यह भी पढ़ें: कड़ी सुरक्षा के बीच कोर्ट में पेश हुए एनएच घोटाले के आरोपित

यह भी पढ़ें: एनएच-74 घोटाला मामले में किसान ने लौटाया पांच लाख का मुआवजा

यह भी पढ़ें: एनएच-74 मुआवजा घोटाले में मनी लॉड्रिंग का केस दर्ज

Posted By: Raksha Panthari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस