जागरण संवाददाता, हल्द्वानी : लॉकडाउन में शिद्दत की इबादत के साथ अकीदतमंदों ने 30 रोजे मुकम्मल कर सोमवार को ईद-उल-फितर का पर्व सादगी के साथ मनाया। शहर के इतिहास में पहली बार ईदगाह में केवल पेश इमाम समेत पाच लोगों ने नमाज अदा की, जबकि मोमिनों ने घरों में अपने परिवारवालों के साथ नमाज अदा कर मुल्क को कोरोना महामारी से निजात दिलाने की दुआ मागी। घर से बाहर नहीं निकलने के कारण लोगों ने फोन और सोशल मीडिया पर ही एक-दूसरे को बधाई दी।

मुस्लिम समुदाय का सबसे पवित्र त्योहार ईद-उल-फितर माना जाता है। लोगों को इसका बेसब्री से इंतजार रहता है। शहर की ईदगाह से लेकर दूसरी मस्जिदों में हर साल हजारों की संख्या में लोग एकत्र होकर नमाज अदा करते थे। इसके बाद एक-दूसरे को गले मिलकर मुबारकबाद दी जाती थी, लेकिन लॉकडाउन के कारण इस बार ईद के दिन गुलजार रहने वाला शहर सूना नजर आया। हालांकि कोरोना वायरस के कारण यह ईद कई मायनों में यादगार रही है। कोरोना वायरस ने भले ही लोगों में दूरियां बढ़ा दी है, लेकिन ईद पर्व ने लोगों में एक दूसरों के लिए प्यार बरकरार रखा है।

...

घर में ईद की नमाज अदा की। रिश्तेदारों व दोस्तों को वीडियो कॉल व सोशल मीडिया पर बधाई दी।

-शहनवाज मलिक, नई बस्ती

...

लॉकडाउन का पालन करते हुए घरों में चाश्त की नमाज़ पड़ी। साथ ही शारीरिक दूरी को ध्यान में रखकर सभी को मुबारकबाद दी।

-सलमान खान, इंदिरानगर

...

हर ईद पर दोस्तों के घर ईद मिलने जाती थी। लेकिन इस ईद पर मुल्क की सलामती के लिए घर में रहकर दुआ मांगी जा रही है।

-फरहीन, इंदिरानगर

....

कोरोना से बचाव को सैनिटाइजर व मास्क बाटा

ईद के मुबारक मौक़े पर पूर्व पार्षद नसीम अहमद ने बनभूलपुरा लाइन नंबर-17, नई बस्ती, गोपाल आदि जगहों पर जाकर लोगों को ईद की बधाई देने के साथ ही मास्क व सेनिटाइज वितरित किया। कोरोना महामारी से बचाव के लिए सरकार व प्रशासन की गाइडलाइन का अनुपालन करने के लिए प्रेरित किया।

...

कोरोना योद्धा को किया सम्मानित

जमीयत उलेमा हिंद की ओर से ईद के मौके पर बूनभूलपुरा थाना के एसओ सुशील कुमार व उनकी टीम को सम्मानित करने के साथ ही उनके कार्यो को सराहा। संगठन के जि़लाध्यक्ष व उमर मस्जिद के पेश ईमाम मौलाना मुकीम क़ासमी ने कहा कि कोरोनाकाल में पुलिस कíमयों ने अपनी जान की बगैर परवाह करे दूसरों की सुरक्षा के लिए दिन-रात एक कर दिया है। खासतौर पर बनभूलपुरा क्षेत्र के लोगों के पुलिस ने लिए हर संभव प्रयास कर उनकी सुरक्षा की है। यहा मौलाना सलमान, कादिर, अरीब, तहुर, अमन, फैसल, जुहैब, अब्दुल आदि मौजूद रहे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस