जागरण संवाददाता, गूलरभोज (ऊधमसिंह नगर) : तराई किसान संगठन के बैनर तले किसानों ने ट्रैक्टर रैली निकाल केंद्र सरकार व सूबे के शिक्षा मंत्री के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली। मंत्री आवास के समीप से गुजरी करीब घंटे भर रैली के दौरान अफरा तफरी का माहौल रहा। वहीं स्थिति से निपटने के लिए पहले से मुस्तैद पुलिस बल खासा चोकन्ना रहा। तनावपूर्ण माहौल में रैली निपट जाने के बाद प्रशासन ने राहत की सांस ली।

जिले भर के किसानों की ट्रैक्टर रैली का कारवां दोपहर करीब डेढ़ बजे शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय के संतोष नगर स्थित आवास के सामने से गुजरा। वाहनों में सवार किसानों ने मंत्री और केंद्र सरकार के खिलाफ जोरदार नारेबाजी करने लगे। इस दौरान कुछ वक्ताओं ने ई रिक्शा पर लगे लाउड स्पीकर का रुख मंत्री आवास की ओर कर भाषणबाजी शुरू कर दी। बीच-बीच में आपत्तिजनक नारेबाजी भी की जाने लगी। जिससे कई बार माहौल तनावपूर्ण होने से बचा। प्रदर्शनकारियों के हर कदम पर सतर्क पुलिस ने मूक दर्शक रहने की रणनीति पर अमल किया। नतीजतन माहौल में पसरे तनाव के बावजूद ट्रैक्टर रैली का कारवां जैसे ही खत्म हुआ, प्रशासन ने राहत की सांस ली। रैली के दौरान सबसे खास बात यह रही कि शिक्षा मंत्री पांडेय आवास में न होकर अन्यत्र मीटिंग में व्यस्त रहे।

घंटे भर में गुजरा रैली का कारवां

मंत्री आवास से रैली गुजरने में करीब घंटे भर का वक्त लगा। किसान नेताओें ने रैली में करीब डेढ़ हजार ट्रैक्टर व अन्य वाहन शामिल होने का दावा किया।

सुबह से ही तैनात था भारी पुलिस बल

किसान संगठनों द्वारा मंत्री अरविंद पांडेय के लगातार बढ़ते विरोध को देखते हुए गुरुवार को गुजरने वाली रैली को लेकर प्रशासन पहले से ही संजीदा था। इस बाबत एक प्लाटून पीएसी, काशीपुर थाने की पुलिस टीम को मंत्री आवास पर सुबह से ही तैनात कर दिया गया। जिसकी कमान सीओ बाजपुर दीपशिख अग्रवाल के हाथ में थी।

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021