जागरण संवाददाता, हल्द्वानी। Haldwani News: घटिया गुणवत्ता की खाद्य सामग्री की बिक्री पर बड़ी कार्रवाई हुई है। दिलबाग पान मसाला बनाने वाली कंपनी समेत चार अन्य पर 47 हजार रुपये का जुर्माना लगाया गया है। असुरक्षित घी पाए जाने पर भी विक्रेताओं पर कार्रवाई हो सकती है।

रुद्रपुर लैब भेजे गए थे जांच के लिए

जिला खाद्य एवं औषधि प्रशासन (FDA) अधिकारी संजय कुमार सिंह का कहना है कि समय-समय पर खाद्य पदार्थों के सैंपल लिए जाते हैं। कुछ समय पहले पान मसाला, मांस, घी आदि के सैंपल जुटाए गए थे और इनकी गुणवत्ता की जांच के लिए इनके सैंपल रुद्रपुर स्थित लैब भेजा गया था। लैब में सैेपल की जांच करने पर इन खाद्य पदार्थों की गुणवत्ता घटिया पायी गई है।

चार सैंपल की रिपोर्ट पर हुई सुनवाई

जिला खाद्य एवं औषधि प्रशासन (FDA) अधिकारी ने बताया कि सैंपल की जांच रिपोर्ट पाजिटिव आने के बाद एडीएम न्यायालय में सुनवाई होती है। पिछले एक वर्ष में लिए गए चार सैंपल और उसकी जांच रिपोर्ट पर सुनवाई पूरी हो गई है।

इन पर हुई कार्रवाई

संजय कुमार सिंह ने बताया कि सुनवाई के बाद दिलबाग पान मसाला बनाने वाली कंपनी सोम ग्लोबल पान मसाला की गुणवत्ता घटिया मिलने पर 25 हजार रुपये जुर्माना लगाया गया है। साथ ही इसके विक्रेता लक्षित ट्रेडर्स पर भी पांच हजार रुपये जुर्माने की कार्रवाई हुई है। मीट विक्रेता आसिम एवं लईक अहमद पर चार हजार रुपये जुर्माना और सोना मटन एंड चिकन मल्लीताल नैनीताल में गंदगी मिलने पर पांच हजार रुपये जुर्माना लगाया गया है। मंगल पड़ाव स्थित कृष्णा स्वीट्स में खुले में खाद्य पदार्थों की बिक्री पर पांच हजार रुपये जुर्माना किया गया है। संजय सिंह का कहना है कि विभाग की ओर से दो अन्य प्रकरणों में घी असुरक्षित पाए जाने पर न्यायालय में जल्द वाद दायर किया जाएगा।

Edited By: Rajesh Verma