रामनगर, जेएनएन : वन्य जीवों के संरक्षण के लिए प्रसिद्ध जिम कार्बेट कॉर्बेट पार्क प्रशासन ने अपने नन्हें मेहमान का बर्थ-डे आज यानी रविवारको केक काटकर धूमधाम से मना रहा है। कॉर्बेट प्रशासन ने कालागढ़ में रह रही कंचंभा हथिनी के शिशु (सावन) का आज दूसरा जन्मदिन है। कॉर्बेट प्रशासन की यह पहल वन्य जीव संरक्षण की दिशा में लोगों को संदेश भी दे रही। सावन के पहले जन्मदिन को भी सीटआर प्रशान ने धूमधाम से मनाया था।

रविवार को कालागढ़ में सावन का दूसरा जन्मदिन मनाया गया। सावन व उसकी मां को सुबह ही नहला-धुलाया गया। इसके बाद सावन को पीठ, गर्दन व पांव में वस्त्र पहनाए गए। करीब 100 किलो वजन का केक बनाया गया है। यह केक गुड़, केले, पटेरा घास, दूब घास, आटे के लड्डू, चरी घास की कुट्टी, गेंहूँ का भूसा मिलाकर बनाया गया। इस दौरान सीटीआर के निदेशक राहुल, पार्क वार्डन आरके तिवारी मौजूद रहे।

 

दरअसल वर्ष 2018 मेें कर्नाटक राज्य से कॉर्बेट पार्क में नौ हाथी लाए गए थे। इनमेें से एक हथिनी गर्भवती थी। दो अगस्त की सुबह उसने बच्चे को जन्म दिया था। सुरक्षित डिलीवरी के लिए आसाम से हेड महावत कालिका को भी बुलाया गया था। नए मेहमान का नाम रखने के लिए कॉर्बेट प्रशासन के अधिकारियों ने कालागढ़ के वनाधिकारियों व वन कर्मियों ने एक कमेटी बनाई। जिसमें एसडीओ कालागढ़ रमाकांत तिवारी, कॉर्बेट के पशु चिकित्सक दुष्यंत कुमार, हेड महावत कलिका व वनकर्मी शामिल किए गए थे। सभी ने अलग-अलग नाम सुझाए। पहले उसका नाम शंभू रखा गया था। लेकिन बाद में उसका नाम बदलकर सावन रख दिया गया था।

 

Posted By: Skand Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस