जागरण संवाददाता, हल्द्वानी : कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कालाढूंगी विधानसभा से जुड़े तमाम मुद्दों पर विधायक बंशीधर भगत पर उपेक्षा का आरोप लगाया। शनिवार को ब्लॉक कार्यालय के सामने धरना देते हुए विरोध में बांसुरी भी बजाई गई। कहा गया कि पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत की समीक्षा बैठक में स्वीकृत विकास कार्यो को भी भाजपा सरकार ने नजरअंदाज कर दिया।

कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव प्रकाश जोशी ने कहा, कांग्रेस सरकार में कई कार्यो को केवल राजनीतिक द्वेष के चलते रोका गया। इसमें करकट नाले का पुल निर्माण, मेथीशाह नाले पर पुल निर्माण, 60 किलोमीटर आंतरिक व मुख्य सड़कों का निर्माण, सीएचसी कालाढूंगी का संयुक्त चिकित्सालय में उच्चीकरण, आंवलाकोट पेयजल योजना का विस्तार, कालाढूंगी में मंडी व मिनी स्टेडियम की स्थापना आदि को लेकर कोई काम नहीं हुआ। जिलाध्यक्ष सतीश नैनवाल ने कहा, कांगेस ही जनता की सच्ची हितैषी है। ब्लॉक प्रमुख भोला दत्त भट्ट ने कहा, पूर्व में स्वीकृत कार्यो को रोकना जनहित के खिलाफ है। पूर्व दर्जा मंत्री महेश शर्मा ने कहा, जनविरोधी सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए सभी को एकजुट होना होगा। क्षेत्र का विकास हमारी प्राथमिकता है और भविष्य में भी रहेगी। इस दौरान जिपं अध्यक्ष सुमित्रा प्रसाद, संजय किरौला, दीप सती, कुंदन बोरा, श्याम सिंह बिष्ट, मोहन सिंह, विजय सिंह, प्रदीप नेगी, ब्लॉक कांगेस अध्यक्ष कुंदन नेगी, संजय बिष्ट, तारा नेगी आदि शामिल रहे।

---

मेरे कार्यो का भी कांग्रेस ने लिया श्रेय: भगत

विधायक बंशीधर भगत ने कहा कि कांग्रेस सरकार में भी मेरे द्वारा कराए गए कार्यो का श्रेय लिया गया था। कुछ नेता है, जो केवल सैरसपाटे के लिए ही क्षेत्र में आते हैं और बयानबाजी करते हैं। पिछले पांच साल में इनकी सरकार ढोल पीटती रही। अब करकट व मेथीशाह नाले पर पुल की स्वीकृति करा दी गई है। हमारी सरकार में जितने वादे हुए, वह सभी पूरे होंगे।

Posted By: Jagran