जागरण संवाददाता, हल्द्वानी : संक्रामक बीमारियों का प्रकोप तेजी से बढ़ रहा है। चिकनगुनिया, डेंगू व जापानी इंसेफ्लाइटिस के सात नए रोगी एसटीएच में भर्ती किए गए हैं। एलाइजा जांच में बीमारी की पुष्टि भी हो चुकी है। एसटीएच में हल्द्वानी के 21 वर्षीय मो. नसीम, बागेश्वर के 25 वर्षीय दिनेश, कोटाबाग की 22 वर्षीय गीता देवी व चम्पावत के कुलियाल गांव की 14 वर्षीय शोभा चिकनगुनिया से ग्रस्त है। मो. नसीम सात सितंबर और अन्य तीनों मरीज नौ सितंबर को भर्ती हुए थे। हरीनगर जंगलियागांव नैनीताल की 13 वर्षीय किरन में डेंगू की पुष्टि हो चुकी है। किच्छा के बांगा गांव के सात वर्षीय इशरत, नानकमत्ता के 18 वर्षीय पप्पू में जापानी इंसेफ्लाइटिस होने की पुष्टि हो गई है। दोनों मरीज आठ सितंबर को भर्ती हुए थे। इसके अलावा वायरल फीवर के रोगियों की संख्या भी लगातार बढ़ रही है। चिकित्सा अधीक्षक डॉ. अरुण जोशी ने बताया कि सभी मरीजों का इलाज चल रहा है। इस तरह के रोगियों के लिए अलग वार्ड बनाया गया है। ऐसे मरीजों को मच्छरदानी के अंदर रखा गया है। एहतियात बरतने के लिए अस्पताल व मेडिकल कॉलेज परिसर में दवा का छिड़काव भी किया गया है। नैनीताल जिले के आठ रोगी स्वास्थ्य विभाग के नकारने के बावजूद नैनीताल जिले में अब तक इन बीमारियों के आठ रोगी सामने आ चुके हैं। अब तक एसटीएच में ही चिकनगुनिया के नौ मरीज, डेंगू के आठ मरीज और जापानी इंसेफ्लाइटिस के 11 मरीज भर्ती हो चुके हैं। बेस अस्पताल में वायरल फीवर के 33 मरीज भर्ती बेस अस्पताल में वायरल फीवर के 33 मरीज भर्ती हैं। इसके अलावा दो मरीज मलेरिया और 14 मरीज डायरिया के हैं। गंभीर रोगियों को एसटीएच के लिए रेफर कर दिया जा रहा है।